Education 

इंतजार के बाद Bihar Board मैट्रिक का Results घोषित, रोहतास के हिमांशु ने किया Top

Ajit Mishra

Bihar (Patna) : काफी इंतजार के बाद आखिरकार बिहार बोर्ड द्वारा हाई स्कूल का रिजल्ट घोषित हो जाने से छात्रों की मायूसी आज खुशी में बदल गयी। बिहार बोर्ड ने मैट्रिक का रिजल्‍ट आज अपरान्ह घोषित कर दिया है। इसी के साथ अब 10वीं बोर्ड के 15 लाख से ज्‍यादा छात्रों का इंतजार खत्‍म हो गया है। बिहार बोर्ड के अध्‍यक्ष आनंद किशोर की मौजूदगी में 10वीं का रिजल्‍ट राज्‍य के शिक्षा मंत्री कृष्‍णनंदन प्रसाद वर्मा ने जारी किया। इस मौके पर शिक्षा विभाग के अपर मुख्‍य सचिव आर के महाजन भी उपस्थित रहे। जानकारी हो कि कोरोना वायरस लॉकडाउन के बाद एक महीने तक कापियों के मूल्यांकन का काम लगभग एक महीने तक रुका रहा। इसी बीच मूल्यांकन के समय शिक्षकों के हड़ताल पर चले जाने से भी मूल्यांक कार्य बाधित हुआ। बावजूद बिहार बोर्ड ने 10वीं का रिजल्‍ट आज घोषित कर दिया है। इससे पहले बिहार बोर्ड ने 12वीं का रिजल्ट 24 मार्च को जारी किया था। बोर्ड ने परीक्षा के मात्र 41 दिनों बाद रिजल्ट जारी कर रिकॉर्ड बनाया था। इस साल कुल 15 लाख 29 हजार 393 विद्यार्थी बोर्ड की परीक्षा में शामिल हुए थे। 2020 में मैट्रिक परीक्षा में 80 फीसदी से अधिक विद्यार्थी  पास हुए हैं।

वहीं, 96.2 फीसदी अंकों के साथ रोहतास जिले के जनता हाई स्कूल तेनुअज के हिमांशु राज ने बिहार में टॉप किया है। जबकि 96 फीसदी अंकों के साथ समस्तीपुर के दुर्गेश कुमार राज्य में दूसरे स्थान पर हैं। वहीं 95.6 फीसदी अंकों के साथ भोजपुर छात्र शुभम कुमार, औरंगाबाद के राजवीर और अरवल की जूली कुमारी तीसरे स्थान पर हैं। ज्ञात हो कि इस साल 12 लाख 4 हजार 30 छात्र मैट्रिक की परीक्षा में सफल हुए हैं। वहीं, पास होने वाले छात्रों की संख्या 6 लाख 13 हजाप 485 है और छात्राओं की संख्या 5 लाख 90 हजार 545 है। मुख्यमंत्री ने बिहार के टॉपर छात्र को एक लाख रुपये पुरस्कार की घोषणा की है। बाकी प्रथम श्रेणी से उतीर्ण सभी छात्र-छात्राओं को भी 10-10 हजार दिए जाएंगे।

error: Content is protected !!