Varanasi 

Covid-19 : बढ़ती जा रही आवश्यकमंद लोगों की मदद करने वाली चेन, जरूरतमंदों की मदद के लिए बैंककर्मियों ने शुरू की मुहिम

वाराणसी। कोरोना वायरस Covid-19 के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए लागू किए गए लॉकडाउन के बाद रोज कमाने-खाने वाले कामगारों के सामने पेट पालने की बड़ी परेशानी मुंह खोलकर खड़ी है। केंद्र और राज्य सरकार के अलावा जिला प्रशासन के साथ कई लोग ऐसे जरूरतमंदों की मदद के लिए आगे आए हैं। आवश्यकमंद लोगों की मदद करने वाली चेन लगातार बढ़ती जा रही है। जरूरतमंदों की मदद करने के लिए बैंककर्मी भी फील्ड में उतर आए हैं।

दरअसल, बैंक ऑफ इंडिया की तरफ से 30 मार्च से लगायत अब तक कई जगहों पर कई जरूरतमंदों को भोजन के पैकेट उपलब्ध कराए गए। जरूरतमंदों तक खाना पहुंचवाने में लंका पुलिस का खास योगदान रहा। बैंक ऑफ इंडिया वाराणसी जोन के जोनल मैनेजर और उप महाप्रबंधक शंकर सेन ने बैंक स्टाफ के सहयोग से जरूरतमंदों की मदद करने के लिए मुहिम की शुरुआत की। आवश्यकमंद लोगों को भोजन उपलब्ध कराने वाले बैंककर्मियों में राजेश दीक्षित, अरविंद राय, मानिष सिंह, रवि गोस्वामी, अरविंद दुबे, सूर्यदेव यादव, निशांत साह, अनूप तिवारी, अरुण मौर्य, अपूर्व राय, अनिल, अजय, श्याम आदि मुख्य रूप से शामिल हैं।

जरूरतमंदों को दिया फल, प्रधानमंत्री राहत कोष में भेजे रुपए

उधर, नगर निगम के पशु चिकित्सालय में तैनात संजय कुमार उनके भाई विशाल कुमार और बहन लक्ष्मी कुमारी ने कज्जाकपुरा दलित बस्ती में जरूरतमंदों के बीच फल वितरित किया। ऐसे ही सिंधी समाज की अग्रणी संस्थान काशी सिंधु सेवा ट्रस्ट वाराणसी ने प्रधानमंत्री कोष में 11 लाख रुपये जमा कराया है। काशी सिंधु सेवा ट्रस्ट के ट्रस्टी रमेश लालवानी, ब्रह्मानंद पेशवानी, नानक वाधवानी, अशोक तलरेजा, बनारसी डोडवानी, हेमंत तलरेजा, रमेश प्रधवानी, जय प्रधवानी और अनिल भगवान रूपानी ने संयुक्त रूप से कहा कि आगे भी इसी तरह मानवता सेवा के लिए काशी सिंधु सेवा ट्रस्ट द्वारा योगदान जारी रहेगा।

error: Content is protected !!