Breaking Crime Varanasi 

Big News : लापता बीएचयू एमबीबीएस छात्र की विंध्याचल के कोल्हुआ घाट पर मिली लाश

विंध्याचल के पहाड़ियों, मठ और धर्मशालाओं में नवनीत की हो रही थी तलाश

Varanasi : बीते चार दिन से लापता बीएचयू एमबीबीएस के छात्र नवनीत परासर की लाश पांचवें दिन शनिवार की सुबह मिर्जापुर जिले के चील्ह थाना अंतर्गत कोल्हुआ घाट पर गंगा किनारे उतराई हुई मिली। विंध्याचल थाना प्रभारी वेद प्रकाश राय मय फोर्स के साथ मोटर बोट से लापता छात्र की तलाश में लगे थे। सुबह विंध्याचल से नेवढ़िया घाट तक खोज करने के दौरान वापसी के वक़्त गंगा नदी के दूसरे छोर से तलाशी के दौरान चील्ह थाना अंतर्गत कोल्हुआ घाट पर शव उतराया हुआ मिला।

पुलिस के अनुसार गंगा में मिली लाश लापता छात्र नवनीत की है। फ़ोटो से शव की पहचान हो गई है। घटना की जानकारी वाराणसी पुलिस के साथ ही मृतक के परिजनों को दे दी गई है। शव को पोस्टमार्टम हाउस भेज दिया गया है। शिनाख्त हेतु परिजनों के आने का इंतज़ार किया जा रहा है। जो अपने गृह जनपद गोपाल गंज, बिहार से चल चुके है।

ये था माजरा

बीएचयू से एमबीबीएस कर रहा मोहम्मदपुर गोपालगंज (बिहार) का रहने वाला नवनीत परासर अपने हॉस्टल से 9 जून को बुलट बाइक लेकर निकला। वापस नहीं लौटा। दोस्तों ने उसकी तलाश शुरू की। लंका पुलिस को सूचित किया। पुलिस तलाश में जुटी थी। इसी बीच, बुधवार को वो आखिरी बार मां विंध्यवासिनी के दरबार में देखा गया था। पता चला था कि तकरीबन दो महीने पहले किसी अघोरी या साधक के संपर्क में लापता छात्र आ गया था। पुलिस के मुताबिक, वह कहता था कि अब संसार व सांसारिक वस्तुओं से मोहभंग होने लगा है। मन करता है कही दूर चला जाऊं। शुक्रवार को उसकी तलाश में लंका पुलिस विंध्याचल पहुंची थी। वहां की पुलिस के सहयोग से संयुक्त रूप से छात्र की तलाश की गई। लंका थाना प्रभारी अश्वनी चतुर्वेदी ने बताया कि एक टीम गठित कर यहां से विंध्याचल भेजा गया था। लापता छात्र की तलाश मंदिर के आसपास के मठों, धर्मशालाओं और कुछ पहाड़ी क्षेत्रों के तरफ शुक्रवार तक की गई थी। शनिवार की सुबह गंगा में खोजने के दौरान उसकी लाश मिली।

error: Content is protected !!