Breaking Crime Varanasi 

Breaking : Varanasi में बिक्री के लिए खैनी ले जाने की सूचना पर घेराबंदी, दो पिकअप vehicles में भरा माल बरामद

माल जप्त कर गाड़ी ड्राइवरों के खिलाफ पुलिस ने दर्ज किया केस

Omprakash Chaudhary

Varanasi : खैनी फैक्ट्री से बिक्री के लिए माल निकासी की सूचना पर फोर्स ने घेराबंदी किया। खैनी लदी दो पिकअप गाड़ियां पकड़ी गईं। माल बरामदगी के बाद रोहनिया थाने में इस बाबत केस दर्ज किया गया। पकड़े गए दो पिकअप चालकों के खिलाफ विधिक कार्रवाई की जा रही है।

दरअसल, कोरोना वायरस से बचाव को लेकर लॉकडाउन लागू किया गया है। लोकहित को देखते हुए शासन द्वारा तंबाकू, खैनी, जर्दा, गुटखा आदि की बिक्री पर प्रतिबंध है। प्रतिबंध के बावजूद कुछ जगहों पर खैनी, गुटखा और जर्दा चोरी-छुपे बेचा जा रहा है। आशा ज्योति खैनी की फैक्ट्री से माल निकासी की जानकारी पर अधिकारियों ने पुलिस को कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

हुआ यह था कि एक पूर्व ग्राम प्रधान ने एसएसपी प्रभाकर चौधरी के सीयूजी नंबर पर बीती रात कॉल कर बताया कि मेहंदीपुर (मिर्जामुराद) स्थित आशा ज्योति खैनी की फैक्ट्री से बिक्री के लिए माल निकला है। जानकारी मिलने के बाद सीओ सदर की अगुआई में रोहनिया इंस्पेक्टर परशुराम त्रिपाठी ने फोर्स के साथ घेराबंदी किया। खैनी भरी दो पिकअप गाड़ियों को पकड़ लिया गया। पुलिस ने दोनों गाड़ियों के चालकों को हिरासत में ले लिया। तकरीबन 170 बैग खैनी पकड़ी गई।

इंस्पेक्टर ने कहा अधिकारियों के निर्देश पर कार्रवाई

इंस्पेक्टर परशुराम त्रिपाठी ने बताया कि दो पिकअप गाड़ियां पकड़ी गई हैं। अधिकारियों के निर्देश पर केस दर्ज कर दोनों गाड़ियों के ड्राइवरों के खिलाफ विधिक कार्रवाई की जा रही है।

बोले एसडीएम प्रशासन

खैनी फैक्टरी संचालक की तरफ से फैक्ट्री में उत्पादन के लिए 9 मई का एडीएम प्रशासन द्वारा निर्गत कागजात पुलिस को दिखाया गया। इस संबंध में एडीएम प्रशासन ने बताया कि डीसी इंडस्ट्रीज ने जो रिक्यूमेंट किया उसी के आधार पर परमिशन जारी किया गया है।

डीसी इंडस्ट्रीज ने कहा

इस बाबत डीसी इंडस्ट्रीज वीरेंद्र कुमार ने बताया कि फर्रुखाबाद सहित कुछ जिलों के लिए परमिशन जारी हुआ है जिसमें फर्रुखाबाद का लेटर दिखाया गया है। परमिशन केवल उत्पाद के लिए है न कि परिवहन के लिए।

error: Content is protected !!