Corona virus : Covid-19 से जंग के लिए योगी सरकार का बड़ा फैसला, UP के इन 15 जिलों में Hotspot होंगे सील

लखनऊ। यूपी में कोरोना वायरस के बढ़त कहर को देखते हुए योगी सरकार ने बुधवार को बड़ा फैसला लिया। योगी सरकार ने राज्य के 15 जिलों में हॉटस्पॉट मोहल्लों को 13 अप्रैल तक सील करने के निर्देश दिए हैं। बुधवार की रात 12 बजे के बाद लखनऊ, गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, आगरा, कानपुर, वाराणसी, शामली, मेरठ, सीतापुर, बरेली, बुलंदशहर, फिरोजाबाद, बस्ती, सहारनपुर और महाराजगंज के हॉटस्पॉट मोहल्ले पूरी तरह सील हो जाएंगे। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र तिवारी ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि इन जिलों के हॉटस्पॉट मोहल्लों को सील किया जाएगा। स्थिति की समीक्षा की जाएगी, उसके बाद फैसला लिया जाएगा।

कितने हैं हॉट स्पॉट्स

आगरा में 22, गाजियाबाद में 13, लखनऊ, कानपुर और नोएडा में 12, वाराणसी, महाराजगंज और सहारनपुर में 4, बस्ती, बुलंदशहर, फिरोजाबाद और शामली में 3, सीतापुर में 1 हॉट स्पॉट चिह्नित किए गए हैं जो 14 अप्रैल तक सील रहेंगे। उत्तर प्रदेश में बुधवार को कोरोना से चौथी मौत हुई। आगरा के एसएनएमसी अस्पताल में भर्ती कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज ने दम तोड़ दिया। महिला मरीज एक दिन पहले ही रेस्क्यू होकर अस्पताल आई थी। मृतक महिला अस्थमा की मरीज थी।

350 हुई कोरोना मरीजों की संख्या

बुधवार को उत्तर प्रदेश में केवल दो मरीजों में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। यह दोनों मरीज आगरा के हैं। इसी के साथ प्रदेश में अब तक 350 संक्रमित मरीज सामने आ चुके हैं। इसमें अकेले तबलीगी जमात के 193 लोग शामिल हैं।

नोएडा और आगरा में 50 से ज्यादा मरीज

आज के दो नए मरीजों को मिलाकर आगरा में 67 कोरोना पॉजिटिव मरीज हो गए है। इसके अलावा नोएडा में 58, मेरठ में 35, लखनऊ में 24, गाजियाबाद में 23, शामली में 17, सहारनपुर में 14, बस्ती में 11, कानपुर, बुलंदशहर और सीतापुर में 8-8, फिरोजाबाद और वाराणसी में 7-7, बरेली और महाराजगंज में 6-6, गाजीपुर में 5, लखीमपुरखीरी, आजमगढ़ और हाथरस में 4-4, जौनपुर, हापुड़, बागपत और प्रतापगढ़ में 3-3, पीलीभीत, मिर्जापुर, मथुरा, बांदा और मुरादाबाद में 2-2, औरैया, रायबरेली, बाराबंकी, प्रयागराज, बिजनौर, शाहजहांपुर, बदायूं, हरदोई और कौशांबी में 1-1 मरीज हैं। अभी तक 27 मरीज स्वस्थ होकर अस्पताल से छुट्टी पा चुके हैं। इसमें आगरा के आठ, नोएडा के 10, लखनऊ के पांच, गाजियाबाद के तीन और कानपुर का एक मरीज शामिल हैं।