#CoronaWarriorsIndia : मदद करने वाले कैमरे का इंतजार नहीं करते, इन गेरुआधारी से मिलिए, शायद कुछ शर्म आ जाए

#Varanasi : कुछ तस्वीरें ऐसी होती हैं जिन्हें चित्र परिचय की आवश्यकता नहीं होती। भागमभाग भरी जिंदगी में हर कोई व्यस्त है। ऐसे में अगर वैश्विक महामारी बन चुके कोरोना वायरस का खौफ भी पांव पसारे हो तो अमूमन कोई भी सुरक्षित ठौर पर ठिठक सकता है। जरूरतमंदों के बीच एक पैकेट बिस्कुट में से एक-एक पीस बिस्कुट बांट कर जहां अपनी तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल करने वाले लोग पड़े हैं वहीं दूसरी तरफ कुछ ऐसे लोग भी हैं जो सोशल मीडिया के शुरुआती अक्षर ‘सो’ से भी इत्तेफाक नहीं रखते।

शरीर पर गेरुआ और हाथ में बेलचा

इसी तरह के एक सज्जन गुरुवार को मालवीय पुल पर दिखे। शरीर पर गेरुआ और हाथ में बेलचा लिए यह शख्स पुल पर पड़े कूड़े-कचरे को साफ कर रहे थे। रास्ते से गुजर रहे एक शख्स ने गाड़ी रोका। उनकी तस्वीर खींची। काम करने में वह इतने मग्न थे कि उनको पता ही नहीं चल पाया कि उनकी तस्वीर खींची जा रही है। अपने काम को अंजाम देने के बाद वह पैदल ही आगे की ओर बढ़ते चले गए।