• क्रिकेट खुमारी : काशी के बुनकरों का एलान, टीम इंडिया फाइनल जीती तो रेशमी धागों से बनी विशेष साड़ी देंगे गिफ्ट

    जगह-जगह विजय कामना के लिए हो रहा पूजा-पाठ

    वाराणसी। इस वक्त सबको क्रिकेट की खुमारी चढ़ी है। वर्ल्ड कप 2019 के मुकाबले का पहला सेमीफाइनल मैच मंगलवार को भारत व न्यूजीलैंड के बीच खेला जाएगा। इसको लेकर इंडिया के विजयी के लिए देश भर में पूजा-पाठ किया जा रहा है। उसी क्रम में प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र बनारस में बुनकरों ने टीम इंडिया को नायाब तोहफा देने का एलान किया है। काशी के बुनकरों ने नीले रंग की रेशमी साड़ी बनाई है, जिसपर क्रिकेट वर्ल्ड कप की ट्राॅफी, बैट-बाॅल और स्टंप को रेशम के धागों के साथ पीरोकर तकरीबन एक महीने की मेहनत के साथ हथकरघे पर तैयार किया गया है। उन्होंने कहा कि अगर टीम इंडिया फाइनल मुकाबला जीतेगी तो टीम के हर सदस्यों को एक-एक साड़ी तोहफे में देंगे।

    बाजार में बढ़ गई मांग

    क्रिकेट की खुमारी देखते हुए बाजार में इस अनोखी साड़ी की मांग बढ़ गई है। क्रिकेट प्रेमी महिलाएं बहुत जोरों से इस अनोखी साड़ी की डिमांड कर रही हैं। क्रिकेट प्रेमी महिलाओं का मानना है कि इस वक्त क्रिकेट वर्ल्ड कप से बड़ा कोई और पर्व नहीं है। जिसके लिए वे क्रिकेट वाली साड़ी खरीद रही है। इसी साड़ी को पहनकर न केवल वे भारत का सेमीफाइनल मैच देखेंगी, बल्कि फाइनल में भी भारत का हौसला बढायेंगी और उनको पूरी उम्मीद भी है कि टीम इंडिया वर्ल्ड कप जरूर जीतेगी। इस नीली क्रिकेट वर्ल्ड कप वाली साड़ी की मांग बहुत हो गई है।

    पूजा-पाठ व झाड़-फूंक

    शनिवार को भारत और न्यूजीलैंड के बीच पहला सेमीफाइनल मुकाबला होने को लेकर क्रिकेट प्रेमी काशी के मंदिरों में पूजा-पाठ कर रहे है। भारतीय टीम का मंगल हो इसी कामना के साथ शनिवार को पीएम मोदी की काशी में साधु और बटुकों ने दक्षिणमुखी हनुमानजी जी के मंदिर में विराट कोहली, ओपनर रोहित शर्मा, माही के साथ ही पूरी टीम के पोस्टर लेकर हनुमानजी के सामने हनुमान चालीसा, बजरंग बाण और हनुमानाष्टक का पाठ किया और आरती की। वहीं, क्रिकेट प्रेमियों ने काशी कोतवाल काल भैरव मंदिर में खिलाड़ियों की नजर उतारते हुए काशी के कोतवाल बाबा काल भैरव मंदिर में पूजन अर्चन किया। क्रिकेट प्रेमियों का कहना है कि हमें खुशी है कि टीम इंडिया लगातार जीत रही है। हमें डर भी है कि जिस तरह से हमारे खिलाड़ी अच्छे फॉर्म में खेल रहे हैं उसे दूसरे देश के खिलाड़ियों की बुरी नजर लग सकती है। इस वजह से हमने बाबा काल भैरव मंदिर में अपने खिलाड़ियों की नजर उतारी हैं।

    Print Friendly, PDF & Email

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *