Varanasi पूर्वांचल 

#EidMubarak : घरों में रहकर अदा की गई नमाज, मांगी अमन चैन की दुआ

सोशल डिस्टेंसिंग का रखा ख्याल, फोन से दी जा रही बधाइयां

Varanasi : कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिए देशभर में लागू लॉकडाउन के बीच सोमवार ईद-उल-फितर का पर्व मनाया जा रहा है। ईद-उल-फितर के पर्व को लेकर मुस्लिम धर्मावलंबियों ने अपने-अपने घरों में ईद की नमाज पढ़ी जबकि मस्जिदों में सिर्फ चंद लोगों ने ईद-उल-फितर की नमाज अदा करते हुए घर-परिवार, समाज व देश में अमन-चैन की दुआ मांगी।

जिले में लोगों ने ईद की खुशियां मनाईं लेकिन लाॅकडाउन के कारण इस बार तरीका कुछ अलग दिखा। ईदगाहों में ताला लगा रहा और लोगों ने घरों में ही नमाज अदा की। कहीं-कहीं गांव की मस्जिद में नमाज तो हुई लेकिन प्रशासनिक दिशा-निर्देशों के अनुसार उसमें चार लोग से ज्यादा शामिल नहीं हुए। नमाज के बाद परिवार समेत आसपास के लोगों को ईद की बधाइयां दी गईं। दावतों का दौर शुरू हुआ लेकिन बहुत खास लोग ही उसमें शामिल हुए। बच्चे अपने दोस्तों के घर मिलने पहुंचे लेकिन मेले का आनंद नहीं मिल सका।

ईद की नामज़ की फ़र्ज़ अदायगी के लिए मस्जिद के इमाम और 5 लोगों को इजाज़त दी गयी थी। शहर की सभी ईदगाहों और मस्जिदों में लॉकडाउन के अनुपालन में नामज़ पढ़ी गयी। लोगों ने एक दूसरे को फोन से सोशल साइट्स के माध्यम से ईद बधाई दे रहे है।

एसएसपी ने किया पैदल भ्रमण

सोमवार सुबह से ही मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों पुलिस गश्त करती दिखी। वरिष्ठ पुलिस अधिक्षक प्रभाकर चौधरी ने गौदोलिया, पांडेय हवेली, तिलभाण्डेश्वर, रेवड़ी तालाब, रामापुरा से नई सड़क तक का पैदल भ्रमण कर माहौल का जायजा लिया।

error: Content is protected !!