Exclusive Varanasi 

#Exclusive : Telangana से Varanasi दर्शन करने आए थे जम्पला श्रीनैय्या, Lockdown में फंस गए, चौकी इंचार्ज ने इस तरह से भिजवाया घर

Varanasi : बात फरवरी महीने की है। महीने के लास्ट में तेलंगाना से श्रीकाशी विश्वनाथ के दर्शन की हसरत लिए जम्पला श्रीनैय्या बनारस पहुंचे। दर्शन सहित अन्य जगहों पर घूम कर सभ्यता संस्कृति को समझ ही रहे थे कि लॉकडाउन में फंस गए। अब उनके पास न तो घर जाने का कोई साधन था और न ही बनारस में रुकने की जगह। वह घूमते-घूमते पहुंच गए लहरतारा चौकी इंचार्ज अजय यादव के पास। चौकी इंचार्ज अजय से सुबह-शाम वह लंच पैकेट लेने आते थें।

और रोने लगे

एक दिन अजय ने उनके बारे में पूछा। वह अपनी परेशानी बताते हुए रोने लगे। चौकी इंचार्ज ने उनसे उनके घर वालों से बात कराया। आश्वस्त किया, जैसे ही कोई व्यवस्था बनेगी उनको घर पहुंचाया जाएगा। तब से वह लहरतारा पुलिस चौकी पर ही रह रहे थें। इधर बीच, शासनादेश पर जिला प्रशासन की ओर से व्यवस्था बनाई गई कि बाहर के फंसे व्यक्तियों को उनके घर भेजा जाए।

चौकी इंचार्ज की कोशिश

चौकी इंचार्ज अजय ने कोशिश कर हैदराबाद की एक एनजीओ और बस मालिक राजा साईं से संपर्क किया। राजा साईं की कुछ बसें गोरखपुर मजदूरों को छोड़ने आई थीं। वापस जाते वक्त बनारस से आगे निकल चुकी थीं। अजय की गुजारिश पर बस मालिक राजा साईं ने जम्पला श्रीनैय्या को लेने के लिए बस वाराणसी वापस भिजा। जम्पला श्रीनैय्या अपने घर के लिए रवाना हुए। मेडिकल चेकअप के बाद घर पहुंच कर उन्होंने चौकी इंचार्ज को वीडियो कॉल किया। घरवालों ने चौकी इंचार्ज का आभार जताया।

पुलिसवाले कहते थे अन्ना

चौकी इंचार्ज ने बताया कि फिलवक्त जम्पला श्रीनैय्या अपने घर हैं। तेलंगाना के नालगोंडा स्थित अपने घर से उन्होंने वीडियो कॉल किया था। जम्पला को हम पुलिसवाले प्यार से अन्ना कह कर पुकारते थे।

error: Content is protected !!