Politics 

Jaunpur : कांग्रेस नेता राजन तिवारी विधि विभाग के नए जिलाध्यक्ष, बोले जिम्मेदारी का निष्ठा से करूंगा निर्वहन

Jaunpur : कांग्रेस के युवा कर्मठ नेता व दीवानी न्यायालय के अधिवक्ता राजन तिवारी को कांग्रेस ने बड़ी जिम्मेदारी है। प्रदेश अध्यक्ष ने राजन को जौनपुर विधि विभाग का जिलाध्यक्ष नियुक्त किया। राजन ने इस संदर्भ में कहा कि पार्टी द्वारा दी गई जिम्मेदारी का वह निष्ठा पूर्वक निर्वाह करेंगे। अधिवक्ताओं के हित में कार्य करते रहेंगे। पार्टी को मजबूत करने का कार्य वह हमेशा करते रहेंगे। पार्टी के लिए संघर्ष करते रहेंगे और शीर्ष नेतृत्व को मजबूत करने का कार्य उनकी प्राथमिकता में रहेगी। 2010 में अरुण कुमार सिंह ‘मुन्ना’ पूर्व प्रदेश अध्यक्ष ने राजन को कांग्रेस में सदस्यता दिलाई थी। पूर्व विधायक नदीम जावेद, डॉ चित्रलेखा सिंह व पूर्व प्रत्याशी लोकसभा देवव्रत मिश्रा के चुनाव में प्रचार में भी अपनी जिम्मेदारी निभाई थी। राजन शुरू से ही एक कर्मठ व सक्रिय कार्यकर्ता रहे।

परिवार कांग्रेस से जुड़ा है

राजन का परिवार चार पीढ़ियों से कांग्रेस पार्टी में अपना योगदान देता आ रहा है। परदादा पं. भगवती दीन तिवारी मशहूर स्वाधीनता संग्राम सेनानी व भूतपूर्व विधायक थे। वर्ष 1928 में जिला कांग्रेस कमेटी के कोषाध्यक्ष, 1931 में जिला कांग्रेस कमेटी के मंत्री, 1939 में जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष,1952 में गडवारा से विधायक और 1962 में रारी से विधायक निर्वाचित हुए। दादी स्व. गिरिजा देवी तिवारी एक जुझारू कांग्रेसी नेत्री रहीं। महिला कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष, जिला पंचायत सदस्य, कांग्रेस कमेटी की 35 वर्षों तक लगातार सदस्य और जिला में इंदिरा कांग्रेस कमेटी की अध्यक्ष भी रहीं। 1991 में विधानसभा क्षेत्र मछली शहर से विधायक उम्मीदवार भी बनाया गया था। पिता स्व. रत्नेश कुमार तिवारी अपने छात्र जीवन से ही राष्ट्रीय छात्र संगठन से जुड़ गए थे। वे राष्ट्रीय छात्र संगठन के जिलाध्यक्ष, भारतीय युवा कांग्रेस के अध्यक्ष, शहर कांग्रेस कमेटी के महामंत्री, जिला कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष, केंद्रीय सहकारी उपभोक्ता भंडार जौनपुर के चेयरमैन भी रहे।

error: Content is protected !!