• जल संरक्षण के लिए व्यापक जन आंदोलन की आवश्यकता- केंद्रीय जल शक्ति मंत्री

    गजेंद्र सिंह शेखावत ने कहा स्वच्छ और सुरक्षित जल अच्छे स्वास्थ्य की कुंजी है

    वाराणसी। विश्व जल संरक्षण के मुद्दे पर एकजुट है। क्योंकि जल ही जीवन है। यह जीवन जीने के लिए बुनियादी आवश्यकता है। स्वच्छ और सुरक्षित जल अच्छे स्वास्थ्य की कुंजी है। धरती के दो तिहाई हिस्से पर पानी भरा हुआ है। फिर भी पीने योग्य शुद्ध जल पृथ्वी पर उपलब्ध जल का मात्र एक प्रतिशत हिस्सा ही है। 97 प्रतिशत जल महासागर में खारे पानी के रूप में भरा हुआ है। शेष दो प्रतिशत जल बर्फ के रूप में जमा है। आज समय है कि हम पानी की कीमत समझें। यदि जल व्यर्थ बहेगा तो आगे वाले वक्त में पानी की कमी एक महा संकट बन जाएगी। उपरोक्त तथ्यों पर अपना विचार व्यक्त करते हुए केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के कहा कि सरकार के प्रयास से ज्यादा आज जल संरक्षण के लिए जन सहभागिता जरूरी है।

    कहा कि व्यापक जल जनांदोलन की जरूरत है। जहां हर व्यक्ति जल के संरक्षण के लिए अपनी अहम भागीदारी सुनिश्चित करें। माहेश्वरी समाज के तत्वाधान में आयोजित कार्यक्रम में केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत बुधवार को शिरकत की।

    उन्होंने उत्तराखण्ड में जल संरक्षण को लेकर प्रकल्प नौला फाउंडेशन के प्रयासों और किये जा रहे कार्यों का भी संज्ञान में लिया। इस अवसर पर हिमांशु राज, मनीष माहेश्वरी, मनीष काबरा, आशीष केला सहित कई लोग मौजूद थे।

    नमामि गंगे विचार मंच के सदस्यों ने किया स्वागत

    दूसरी तरफ बुधवार को सुबह केंद्रीय जल सकती मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत से नमामि गंगे विचार मंच के सदस्यों ने मुलाकात की। उनका अभिनंदन और स्वागत किया गया।

    Print Friendly, PDF & Email

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    error: Content is protected !!