• अध्यात्म, दर्शन और धर्म में है रुचि तो क्लिक करें MakeMyPilgrimage.Com, बोले गायक अनूप जलोटा मुहैया कराई जाएंगी विशेष सुविधा

    वाराणसी। Make My Pilgrimage (मेक माई पिलग्रीमेज) आध्यात्म, दर्शन व धर्म की एक ऐसी वेबसाइट, एक ऐसी व्यवस्था है, जो सम्पूर्ण भारत को एक सूत्र में पिरोने का काम कर रही है। ये वेबसाइट भारत में आपको धार्मिक स्थलों का दर्शन-पूजन करायेगी, वो भी बिना किसी असुविधा के।

    देश-विदेश के किसी भी धार्मिक स्थल पर पूजा-पाठ’ और दर्शन-पूजन के दरमियान विशेष सुविधा दी जाएगी। दर्शनार्थी को दर्शन के दरमियान किसी तरह की परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। यह बातें रविवार को भेलूपुर स्थित एक होटल में आयोजित पत्रकारवार्ता के दौरान Make My Pilgrimage के ब्राण्ड एम्बेसडर भजन सम्राट अनूप जलोटा ने कहीं।

    धार्मिक स्थल के ऐतिहासिक महात्म्य से कराया जाएगा परिचित

    बताया कि आप इस वेबसाइट के माध्यम से भारत में किसी भी धार्मिक स्थल से जुड़ सकते हैं, जहां आपको ठहरने, खाने, वाहन आदि की उत्तम व्यवस्था मिलेगी।

    साथ ही उस धार्मिक स्थल के ऐतिहासिक महात्म्य से भी परिचित कराया जाएगा।

    सनातन परंपरा से जोड़ना मुख्य लक्ष्य

    उन्होंने बताया कि इस वेबसाइट का मुख्य उद्देश्य लोगों को अपनी सनातन परंपरा से जोड़ना और हिंदू संस्कृति से पूरी दुनिया को परिचित कराना है।

    श्री जलोटा ने कहा कि आध्यात्मिक और सांस्कृतिक रूप से समृद्ध होने के बावजूद आज हम प्रतिच्य सभ्यता की तरफ उन्मुख हो रहे हैं, जो सनातन काल से समृद्ध हमारी सभ्यता और संस्कृति पर कुठाराघात है।

    प्रख्यात ज्योतिर्विदों व आयुर्वेदिक चिकित्सकों से भी कर सकेंगे संपर्क

    श्री जलोटा ने बताया कि इस वेबसाइट के जरिए आप प्रख्यात ज्योतिर्विदों व आयुर्वेदिक चिकित्सकों का भी लाभ उठा सकते हैं। कहा कि चिकित्सा की सर्वाधिक पुरातन विधा आयुर्वेद है, जो आज अपने संक्रमण काल से गुजर रही है। हमारा एक छोटा सा प्रयास है कि लोग आयुर्वेद के बारे में जानें और इसके अद्भुत चिकित्सकीय परिणाम और लाभ से परिचित हो सकें।

    बताया कि इस वेबसाइट के द्वारा देश विदेश के किसी भी स्थान के प्रसिद्ध स्थानीय उत्पादों और वस्तुओं को आप घर बैठे मंगा सकते हैं। जैसे बनारसी साड़ी, हस्त शिल्प, प्रसिद्ध मंदिरों के प्रसाद, दक्षिण भारत की प्रसिद्ध वस्तुएं आदि। साथ ही ऐसी तमाम सुविधाओं का आप यहाँ से लाभ उठा सकते हैं।

    ये थे मौजूद

    इस दरमियान इंद्रनील दास गुप्ता, अंकन कुमार गांगुली, सोमराज सेन, डॉ. श्याम सुंदर पांडेय, डॉ. विनोद कुमार सिंह, आचार्य प्रवीण पाठक, समाजसेवी प्रभात वर्मा आदि लोग मौजूद थे।

    Print Friendly, PDF & Email

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *

    error: Content is protected !!