Health Varanasi 

Varanasi : डोर-टू-डोर जाकर कोरोना मरीजों की जांच को गम्भीरता से करें- अपर मुख्य सचिव

अस्पतालों की साफ-सफाई की व्यवस्था सुनिश्चित कराए

Varanasi : अपर मुख्य सचिव कृषि देवेश चतुर्वेदी ने शुक्रवार को जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा के साथ सर्किट हाउस के सभागार में कोविड-19 व संचारी रोग नियंत्रण के संबंध में किए जा रहे कार्यों के प्रगति की बैठक की। उन्होंने 5 से 15 जुलाई तक चलाये जा रहे कोविड-19 के अंतर्गत “विशेष सर्विलांस अभियान” के तहत घर-घर जाकर जो टीमें जांच कर रही हैं उन्हें सीएचओ द्वारा ट्रेनिंग कराये जाने का निर्देश मुख्य चिकित्सा अधिकारी को दिया। भ्रमण के दौरान एक स्कूल के अध्यापकों को बिना मास्क के पाया और जांच टीम की एएनएम से थर्मल स्कैनर व पल्स आक्सीमीटर के प्रयोग के बारे में पूछा तो जानकारी नहीं दे पायीं। उन्होंने कहा कि डोर टू डोर जाकर कोरोना मरीजों की जांच को गम्भीरता से करें साथ ही लोगों को सेन्सेटाइज़ करने की हिदायत भी दी। जिले में कोविड के मरीजों के अलावा फाइलेरिया, कालाजार की रिपोर्ट तलब की और इलाज किये जाने की स्थिति के बारे में पूछा।उन्होंने अस्पतालों में साफ-सफाई, खाने की क्वालिटी और किचन में सफाई के साथ-साथ भर्ती गम्भीर मरीजों के परिजनों को मरीज का हाल बताने पर भी जोर दिया। अपर मुख्य सचिव ने एल-1, एल-2 व एल-3 हास्पिटल की जानकारी और मरीजों की संख्या पूछी, साथ ही एल-1 के मरीजों के लिए उनकी मांग पर होटल में पेमेंट के आधार पर की गयी व्यवस्था पूछने पर एयरपोर्ट के पास संजय मोटल्स में किये जाने की जानकारी दी गयी।

घर-घर जाकर जांच

15 तारीख से संचारी रोगों के रोकथाम के लिए दस्तक अभियान के तहत घर-घर जाकर जांच करने तथा शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रो में फागिंग कराये जाने की व्यवस्था को जाना। गत वर्ष डेंगू के 522 मरीज के जनपद में पाये जाने पर उन्होंने कहा कि लोगों में अवेयरनेस पैदा करने, एण्टी लारवा स्प्रे तथा फागिंग की चाक-चौबंद व्यवस्था करने के निर्देश दिए। नगर आयुक्त द्वारा बताया गया कि शहरी क्षेत्र में नगर निगम के सफाई इन्स्पेक्टर खाली प्लाटों में इकट्ठा पानी को खाली कराने तथा पानी में केमिकल डाल कर मच्छरों को मारने की कार्यवाही की जाती है। जिलाधिकारी ने नगर आयुक्त और एसडीएम को निर्देश दिया कि जगह-जगह पड़े कूड़े की सफाई तथा नाले और नालियों की सफाई तत्काल प्राथमिकता पर शुरू करा दे।

पॉलीथिन मुक्त शहर के लिए कड़ाई से करवाये पालन

अपर मुख्य सचिव ने नगर आयुक्त को निर्देशित किया कि नगर निगम के बाई लाज़ में यह प्राविधान करायें कि लोगों द्वारा घरों में पड़े कबाड़, कूलर या ऐसी चीजें जिसमें पानी इकट्ठा हो और डेंगू, मलेरिया आदि बीमारी फैलाने वाले मच्छरों को पनपने का साधन पाया जाये तो उनके खिलाफ चालान की कार्रवाई की जा सके। पालीथीन के इस्तेमाल पर सुप्रीम कोर्ट व हाई कोर्ट के निर्देशों का अनुपालन कड़ाई से सुनिश्चित कराने पर भी जोर दिया। कृषि विभाग की समीक्षा करते हुए मुख्य विकास अधिकारी को निर्देश दिए कि 15 दिनों में अपनी देखरेख में जिले के किसानों को व्हाट्स एप का ग्रुप बनवा कर जोड़ने का कार्य करायें, जिससे उनको टिड्डी दल की जानकारी सहित अन्य विभागीय सूचनाएं आदि तत्काल मिल सके। उप निदेशक कृषि को निर्देशित किया कि ट्रेक्टर माउण्टेड पावर स्प्रे क्रय करने के लिए किसानों से वार्ता करें तथा विभागीय स्तर पर इसकी व्यवस्था की जाय।

error: Content is protected !!