Breaking Crime Varanasi उत्तर प्रदेश 

वाराणसी-प्रयागराज नेशनल हाइवे पर हादसा : एमपी-एमएलए कोर्ट में गवाही देने जा रहे लोगों की कार और ट्रक में टक्कर, दुर्घटना में तीन चोटिल, घायल सूरज का आरोप- जानबूझकर कराया गया एक्सीडेंट

Varanasi : बनारस-प्रयागराज नेशनल हाइवे मार्ग पर गुरुवार की सुबह सड़क दुर्घटना में कार सवार तीन लोग घायल हो गए। सूचना पाकर मौके पर पहुंची देहात की मिर्जामुराद पुलिस ने सभी को इलाज हेतु ट्रामा सेंटर भेजवाया।

जानकारी के मुताबिक, बीते 09 वर्ष पूर्व 23 अप्रैल 2012 को कैंट थाना क्षेत्र के भोजूबीर में हुई बैंक कर्मी महेश जायसवाल की हत्या के मामले में भेलूपुर के खोजवां निवासी सूरज प्रसाद वैगनार कार से अधिवक्ता नवीन श्रीवास्तव संग प्रयागराज स्थित एमपी-एमएलए कोर्ट में गवाही देने जा रहे थे।

खजुरी हाइवे सिक्सलेन व रिंगरोड निर्माण कार्य करा रही जी.आर.इंफ्रा लिमिटेड कम्पनी के प्लांट के सामने बने टर्निंग कट प्वाइंट पर अचानक एक ट्रक के मुड़ने से कार उसमें टकरा गई। हादसे में सूरज, उनका चालक बंटी और अधिवक्ता नवीन श्रीवास्तव घायल हो गए।

सूरज का आरोप

गवाह देने जा रहे सूरज का आरोप है कि, उनकी जान लेने के उद्देश्य से हत्या के आरोपी पूर्व सांसद जवाहर जायसवाल के परिवार के लोगों ने ट्रक से जानबूझकर एक्सीडेंट कराया है। पीड़ित ने खजुरी चौकी पर पुलिस को तहरीर देकर जवाहर जायसवाल के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। पुलिस घटना की जांच कर रही है।

थाना प्रभारी की बात

मिर्जामुराद थाना प्रभारी दुर्गेश मिश्रा ने बताया कि हादसा हुआ है। आरोपी चालक ट्रक के साथ पकड़ा गया है। घटना की जांच कराई जा रही है, जांच में सामने आए तथ्यों के आधार पर प्रकरण में आगे की कार्रवाई की जाएगी।

9 साल पहले की गई थी हत्या

याद होगा, 23 अप्रैल 2012 को कैंट थाना अंतर्गत भोजूबीर में स्कूटर बैंक कर्मी महेश जायसवाल की गोली मार कर हत्या की गई थी। कैंट थाने की पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर विवेचना शुरू की। विवेचना में सनी सिंह, हैदर व रोशन गुप्ता उर्फ किट्टू (तीनों मारे गए), रिंकू उर्फ फहीम, अजय-विजय सहित 8 आरोपियों का नाम प्रकाश में आया था। इसके बाद महेश के भाई गुड्डू जायसवाल ने कोर्ट में प्रार्थना पत्र देकर आरोप लगाया कि हत्या उनकी की जानी थी। लेकिन, गलती से महेश की कर दी गई। इसके साथ ही गुड्डू ने हत्या का सूत्रधार जवाहर जायसवाल और उसके बेटे गौरव को बताया। गुड्डू के प्रार्थना पत्र पर हाईकोर्ट ने मुकदमे की पुनर्विवेचना का आदेश दिया था। मुकदमे की सुनवाई अब प्रयागराज स्थित एमपी-एमएलए कोर्ट में चल रही है।

You cannot copy content of this page