Breaking Crime Varanasi ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

रिश्वतखोरी में लेखपाल संजय वर्मा पकड़ा गया : 40 हजार रुपये ले रहा था घूस, अधिकारियों को पैसा पहुंचाने की बात कह कर मांगे थे 80 हजार रुपये

Pankaj Mishra

Varanasi : एंटी करप्शन टीम ने रोहनिया क्षेत्र के मोहनसराय से लेखपाल संजय वर्मा को 40 हजार रंगे हाथ घूस लेते पकड़ा। टीम ने लेखपाल को रोहनिया पुलिस को सौंप दिया।

रोहनिया थाना क्षेत्र के नरउर के रहने वाले अजीत कुमार सिंह इंडियन ऑयल पेट्रोल पंप का आवेदन किए थे। इसके लिए जिलाधिकारी के यहां से जमीन की जांच और एनओसी के लिए तहसील को निर्देशित किया गया। तहसील से मामले की जांच क्षेत्रीय लेखपाल संजय वर्मा को सौंपी गई। पीड़ित अजीत कुमार का आरोप है कि अप्रैल माह से ही लेखपाल के पास पेपर आ गया था।

कहा, जब मैं उसके बारे में पूछता तो टालमटोल कर देते थे। इन्होंने फिर कहा कि 80 हजार खर्चा आएगा, क्योंकि अधिकारियों को भी देना है।अजीत ने पहले असमर्थता जताई लेकिन फिर पांच-पांच हजार रुपये दो बार दिए।

17 सितंबर को लेखपाल ने पैसे की मांग की तब आजिज आकर एंटी करप्शन टीम से संपर्क किया। टीम ने अजीत कुमार के साथ मोहनसराय स्थित मिश्रा कटरा में लेखपाल के बने अस्थाई कार्यालय पर पैसे देने की योजना बनाई। गुरुवार को कार्यालय पर पहुंचकर पेपर के बारे में बात करते हुए अजीत ने 40 हजार दिए जिसे लेखपाल ने अपनी पैंट की जेब में डाल ली।

You cannot copy content of this page