Breaking Varanasi ऑन द स्पॉट 

Akanksha Dubey Death Case : कोर्ट ने तलब की सारनाथ थाने से आकांक्षा दुबे आत्महत्या मामले में आख्या

Varanasi : आकांक्षा दुबे आत्महत्या मामले में अब कोर्ट ने भी कार्रवाई शुरू कर दी है। आकांक्षा दुबे की मां की याचिका पर सिविल जज जूनियर डिवीजन फास्ट ट्रैक कोर्ट शक्ति सिंह की अदालत ने आकांक्षा की मां मधु दुबे की याचिका पर सारनाथ थाने से दो दिन के अंदर आख्या तलब की है। आकांक्षा की मां ने अपने अधिवक्ता शशांक शेखर त्रिपाठी के द्वारा केस डायरी तलब करवा वादिनी का बयान दर्ज करने की मांग की थी।

इस सम्बन्ध में मधु दुबे के अधिवक्ता शशांक शेखर त्रिपाठी ने बताया कि हमने कोर्ट में दो प्रार्थना पत्र दिए थे। इसमें से एक में आकांक्षा की मां मधु दुबे ने कोर्ट में गुहार लगायी थी कि आकांक्षा दुबे की आत्महत्या से समबन्धित सभी साक्ष्य जिसमे होटल का सीसीटीवी फुटेज भी शामिल है को तलब करते हुए अपने पर्यवेक्षण में विवेचना कराएं क्योंकि वादिनी को थाने की विवेचना पर भरोसा नहीं है। इसके अलावा वादिनी का कलमबंद बयान भी दर्ज किया जाए। इसके अलावा एक अन्य याचिका में मधु दुबे ने आरोप लगाया था कि ह्त्या की तहरीर को आत्महत्या में बदल गया और पुलिस कमिश्नर द्वारा जारी हुए प्रेस नोट में भी बिना बिसरा रिपोर्ट आए बेटी की मौत को आत्महत्या डिक्लियर किया गया है। इसलिए पुलिस कमिश्नर को भी कोर्ट में तलब किया जाए। इस मामले को सुनते हुए सिविल जज जूनियर डिवीजन फास्ट ट्रैक कोर्ट शक्ति सिंह की अदालत ने सारनाथ थाने को दो दिनों के अंदर आकांक्षा दुबे की केस में आख्या तलब की है।

याद होगा कि, भोजपुरी ऐक्ट्रेस आकांक्षा दुबे का शव 26 मार्च को सारनाथ थानाक्षेत्र के होटल सोमेंद्र में मिला था। इसके बाद मां मधु दुबे ने थाने में भोजपुरी सिंगर समर सिंह और उसके भाई संजय सिंह पर आरोप लगते हुए एफआईआर दर्ज कराई थी। इस मामले में समर सिंह और संजय सिंह को वाराणसी पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। समर सिंह की 17 अप्रैल को पांच दिन की रिमांड भी पूरी हो चुकी है।

You cannot copy content of this page