Breaking Varanasi उत्तर प्रदेश ऑन द स्पॉट 

सारनाथ थाने पहुंची आकांक्षा दुबे की मां : गिरफ्तारी की मांग कर धरने पर बैठीं, पुलिस पर हीलाहवाली करने का लगाया आरोप

Varanasi : भोजपुरी अभिनेत्री आकांक्षा दुबे की मौत का मामला बढ़ता ही जा रहा है। शुक्रवार को आकांक्षा दुबे की मां मधु दुबे अपने परिजनों के साथ सारनाथ थाने पहुंचीं। मधु दुबे आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करते हुए थाने के सामने ही धरने पर बैठी हैं। सारनाथ थाने पर भोजपुरी अभिनेत्री आकांक्षा दुबे की मां के साथ पहुंचे परिजन और दर्जनों लोगों ने थाने का घेराव किया। इस दौरान अभिनेत्री आकांक्षा दुबे की मां ने वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस पर कई गंभीर आरोप लगाए। मां का कहना है कि मेरी बेटी आकांक्षा दुबे को न्याय नहीं मिला है और आरोपी खुलेआम घूम रहा है। घटना के इतने दिन बीत गए लेकिन अभी तक आरोपी सिंगर समर सिंह और उसके भाई संजय सिंह की गिरफ्तारी क्यों नहीं हो पा रही है ? मधु दुबे ने वाराणसी पुलिस पर हीला हवाली करने का भी आरोप लगाया है।

बता दें की, भोजपुरी अभिनेत्री आकांक्षा दुबे की आत्महत्या के मामले में वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस घटना के 4 दिनों के बाद भी आरोपियों से काफी दूर है। आत्महत्या की गुत्थी सुलझाने में जुटी वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस के हाथ अभी तक आरोपी भोजपुरी सिंगर समर सिंह और उसका भाई संजय सिंह नहीं लगे हैं। मामला हाईप्रोफाइल होने के वजह से वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस की टीम और क्राइम ब्रांच की टीम लगातार आरोपियों को ढूंढने के लिए दबिश दे रही है। वहीं घटना के 4 दिन बीत जाने के बाद भी आरोपियों के नहीं पकड़े जाने से परिजनों में आक्रोश व्याप्त है।

गौरतलब है कि , भोजपुरी अभिनेत्री आकांक्षा दुबे की मौत के बाद से उनकी मां का रो-रोकर बुरा हाल है। वो घटना वाले दिन से ही भोजपुरी गायक समर सिंह और उसके सहयोगी संजय सिंह पर हत्या का आरोप लगा रही हैं। उनकी तहरीर पर बीते सोमवार को सारनाथ पुलिस ने समर सिंह और उसके भाई संजय सिंह के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया।समर और संजय सिंह फरार है। बुधवार को आकांक्षा की मां मधु दुबे ने वीडियो जारी किया। इसमें उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से आकांक्षा की मौत मामले की CBI जांच की मांग की। उन्होंने कहा कि एक मां आंचल फैलाकर अपनी बेटी के मौत की CBI जांच कराने की मांग कर रही है। कहा कि मेरी बेटी किसी भी हाल में आत्महत्या नहीं कर सकती। आकांक्षा की मां ने रोते हुए कहा कि मेरी बेटी को अभी बहुत आगे जाना था लेकिन अब वह नहीं रही। अब मेरा ध्यान कौन रखेगा। मेरा कौन सहारा बनेगा। समर और संजय अगर सही हैं तो सामने आएं और बताए क्या हुआ था। मेरी बेटी इन लोगों की छोटी-छोटी बातों को छिपाती रही। अगर पहले ही शिकायत कर देती तो ये दिन नहीं आता।

You cannot copy content of this page