Breaking Varanasi उत्तर प्रदेश ऑन द स्पॉट 

विभागीय उदासीनता से नाराज पूर्व पार्षद का गड्ढे में लेट कर प्रदर्शन: कहा- सड़क पर बह रहा पानी, शिकायत पर भी नहीं सुनते जिम्मेदार

Varanasi : शहर के भीड़-भाड़ इलाकों में शुमार नई सड़क पर पिछले 6 दिन से पाइप लाइन लीकेज के कारण पानी बह रहा है। शिकायत के बाद भी जिम्मेदार विभाग द्वारा समस्या को दूर करने की दिशा में कोई पहल नहीं किया गया। इससे नाराज पूर्व पार्षद शाहीद अली खां मुन्ना ने सड़क पर बह रहे पानी में लेटकर अनोखे अंदाज में विरोध-प्रदर्शन किया। इस दौरान उन्होंने जल संस्थान के कर्मियों व ठेकादारों पर जनता के हितों की अनदेखी करने का आरोप लगाया।

बता दें कि नई सड़क पर बीते कुछ दिनों से पाइप में लिकेज के कारण पानी बह रहा है। पानी के बहाव के कारण सड़क पर कई जगह गड्ढे बन गए हैं। इसके विरोध में पूर्व पार्षद शाहिद अली ने सोमवार को अनोखे ढंग से प्रदर्शन किया। गड्ढे में बह रहे पानी में लेट कर धरना दिया। हाथ में पोस्टर में लिखा था, देखो जलकल संस्थान की लापरवाही , सात दिन से बह रहा पानी। शाहिद अली ने कहा कि पेयजल लाइन कई दिनों से लीक होने की शिकायत के बाद भी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। इस कारण बेनिया, नई सड़क से लगड़ा हाफिज मस्जिद तक सड़क पर फिसलन की स्थिति हो गई है। कहा कि जलकल संस्थान की इस लापरवाही से आने-जाने में परेशानी हो रही है। वहीं पाइप लाइन में लिकेज से प्रतिदिन सैकड़ों लीटर पीने का बेकार हो रहा है। इससे जलसंकट को लेकर विभागीय पदाधिकारियों की उदासीनता उजागर हो रही है।

उन्होंने कहा कि 31 तारीख की पेयजल पाइप लाइन क्षतिग्रस्त हो गई थी। इसको लेकर कई बार शिकायत की गई। इसके बावजूद जल संस्थान के कर्मचारियों ने लीकेज ठीक नहीं किया। इससे सड़क पर पानी बह रहा है। इससे 30 हजार लोगों को पीने की पानी की किल्लत का सामना करना पड़ रहा। सड़क पर बह रहे पानी से होकर ही स्कूली बच्चे, नमाजी यहां से आते-जाते हैं। कहा कि पीएम व सीएम दिन-रात काम कर रहे हैं, लेकिन जल संस्थान के अधिकारी-कर्मचारी और ठेकादार काम नहीं कर रहे हैं। इस समस्या की वजह से व्यापार भी प्रभावित हो रहा है। व्यापारियों व दुकानदारों के साथ ही ग्राहकों को भी दिक्कतें झेलनी पड़ रही हैं। उन्होंने जल्द से जल्द पेयजल पाइपलाइन की मरम्मत कराने की मांग की।

You cannot copy content of this page