Breaking Crime Exclusive Varanasi उत्तर प्रदेश ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

Bhadohi Durga Pooja Pandal Fire Case: बढ़ा मौत का आंकड़ा, इलाज के दौरान दो महिलाओं की मौत, अबतक नौ लोगों ने दम तोड़ा

Varanasi : भदोही में दुर्गा पूजा पंडाल में लगी आग में मृतकों की संख्या बढ़कर नौ हो गई। औराई अग्निकांड में मृतकों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। शुक्रवार की सुबह दो महिलाओं की मौत हो गई। जिसमें सीमा पत्नी स्वर्गीय अवधेश ने ट्रामा सेंटर और मंजू देवी पत्नी सुरेश विश्वकर्मा ने सर सुंदर लाल इमरजेंसी वॉर्ड में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया।

बारी गांव निवासी सीमा अग्निकांड में मृत सुजल की मां है। घटना की जानकारी मिलते ही परिवार में कोहराम मच गया। सीमा मृतक हर्षवर्धन उर्फ सूजल की मां है। इसके पहले इसी परिवार में पूर्व प्रधान जया देवी, उनका पोता सूजल और नवीन की मौत हुई थी। अब एक और मौत होने से परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा।

बता दें कि औराई में दो अक्तूबर की रात दुर्गा पूजा पंडाल के अंदर चल रहे शो के दौरान लगी आग से 77 लोग झुलस गए थे। इस घटना में अबतक आठ लोगों की मौत हो चुकी है। अभी कई अन्य लोग वाराणसी में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहे हैं। कमिश्नर योगेश्वर राम मिश्रा, जिलाधिकारी गौरांग राठी और एसपी डॉ. अनिल कुमार लगातार मरीजों का हाल-चाल ले रहे हैं।

मरीजों के बेहतर इलाज के लिए जिला प्रशासन प्रयासरत है। इसी कड़ी में गुरुवार को आठ सदस्यीय टीम का गठन किया गया। जिलाधिकारी ने इन टीमों को इस घटना में झुलसे लोगों की निगरानी का निर्देश दिया है। डीएम ने वाराणसी में भर्ती मरीजों की निगरानी के लिए मुख्य विकास अधिकारी भानु प्रताप सिंह और जिले में भर्ती मरीजों के लिए एडीएम न्यायिक शिवनारायण सिंह को नोडल अधिकारी बनाया है।

बेहतर इलाज के लिए 8 लाख 95 हजार जारी

पूजा पंडाल में आग की घटना में झुलसे लोगों के बेहतर इलाज के लिए जिलाधिकारी ने इंडियन रेडक्रॉस सोसाइटी के अध्यक्ष के तौर पर आपातकालीन फंड से धनराशि उपलब्ध कराई है। वाराणसी, प्रयागराज व भदोही के अस्पतालों में उपचार के लिए पहली किस्त के रूप में आठ लाख 95 हजार रुपये दिए गए हैं।

You cannot copy content of this page