Varanasi ऑन द स्पॉट धर्म-कर्म पूर्वांचल 

भैरव अष्टमी : तीन दिनी कार्यक्रम में अंतिम दिन प्रसाद वितरण

Varanasi : भैरव अष्टमी से एक दिन पहले शुरू होने वाले तीन दिनी कार्यक्रम के अंतिम दिन गुरुवार को भक्तों में प्रसाद वितरित किया गया। बुधवार को काशी के कोतवाल बाबा काल भैरव और अष्ट भैरव मंदिर सहित शहर के अन्य भैरव मंदिरों में विविध आयोजन किए गए थे। सुबह से ही मंदिरों में भैरव भक्तों की भीड़ लगी हुई थी। सुबह से शुरू हुआ दर्शन-पूजन का क्रम रात तक चलता रहा।

चौखंडीबीर बड़ी पियरी स्थित काल भैरव बाबा के मंदिर में श्रृंगार के बाद भक्तों के दर्शन के लिए मंदिर का कपाट खोल दिया गया। इससे पहले भैरव अष्टमी से एक दिन पहले हर साल की तरह इस बार भी काशी के कोतवाल बाबा काल भैरव मंगलवार को नगर भ्रमण के लिए निकले थे। दोपहर डोले पर बाबा काल भैरव की शाही सवारी निकली थी। डोला यात्रा निकलने से पहले चौखंडीबीर बड़ी पियरी स्थित बाबा काल भैरव के मंदिर में उनका रच-रचकर श्रृंगार किया गया था।

महंत राजेश्वरानंद सरस्वती ने बताया कि गुरुवार को सायंकाल 5 बजे विशाल भंडारे का आयोजन किया गया। महंत राजेश्वरानंद सरस्वती ने लोगों से अपील की थी कि आप सभी काशीवासी सादर आमंत्रित होकर बाबा के दर्शन कर अपने पापों का समन कर पूर्ण के भागी बनें।

You cannot copy content of this page