Education Varanasi 

BHU : Artificial intelligence पर आधारित PG Course जल्द शुरू कर सकता है विश्वविद्यालय प्रशासन, बैठक में हुआ विचार

Varanasi : काशी हिन्दू विश्वविद्यालय प्रशासन आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस आधारित स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम शुरू करने पर विचार कर रहा है। विभिन्न क्षेत्रों, विशेष रूप से साइबर सुरक्षा में Artificial intelligence के महत्व को देखते हुए बीएचयू आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर एक स्नातकोत्तर पाठ्यक्रम आरम्भ करने की संभावनाओं पर विचार कर रहा है। ये क़दम इस लिहाज़ से भी अत्यंत महत्वपूर्ण है कि नई शिक्षा नीति 2020 में प्रॉद्योगिकी आधारित पठन-पाठन और कौशल विकास को शिक्षा का एक महत्वपूर्ण अंग बनाने पर ज़ोर दिया गया है। कुलपति प्रो. राकेश भटनागर ने इस पाठ्यक्रम को शुरू करने के व्यवहारिक पहलुओं व अन्य पक्षों जैसे पाठ्यक्रम की रूपरेखा व स्लेबस तथा आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के क्षेत्र में शोध के विषय पर विचार करने के लिए एक समिति का गठन किया है।

गुरुवार को हुई समिति की पहली बैठक में इस मुद्दे पर विस्तार से चर्चा हुई व सदस्यों से इस संबंध में सुझाव मांगे गए। प्रो. आनंद मोहन, सदस्य, कार्यकारिणी परिषद् की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में प्रो. के.सुबैय्या, प्रो. एडके. अग्रवाल, प्रो. वेंकटेश्वर तिवारी, प्रो. एस. के. सिंह व डॉ. अनिल कुमार पांडे ने हिस्सा लिया। आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के क्षेत्र में प्रस्तावित ये पीजी कोर्स देश को प्रशिक्षित पेशेवर उपलब्ध कराएगा व इस क्षेत्र की ज़रूरतों के अनुरूप प्रतिभागियों को तैयार करेगा, जो न सिर्फ समाज बल्कि देश के लिए काफी उपयोगी सिद्ध होगे। प्रस्तावित पाठ्यक्रम (Master of Science – Artificial Intelligence) प्रौद्योगिकी आधारित कोर्स होगा व अपनी तरह का पहला होगा जब कि एक विश्वविद्यालय द्वारा ऐसा कोर्स उपलब्ध कराया जाएगा।

error: Content is protected !!