Breaking Crime Varanasi 

Breaking : lockdown में गांजा बेचने निकले तीन तस्कर चढ़े police के हत्थे

Varanasi : एसएसपी प्रभाकर चौधरी के द्वारा भांग के ठेकों पर अवैध रूप से होने वाली गांजा बिक्री पर प्रतिबंध लगने के बाद गांजा तस्कर नए-नए हथकंडे अपना रहे हैं। गांजा तस्कर अब शहर में घूम कर अपने ग्राहकों को गांजा बेच रहे हैं। ऐसे ही तीन गांजा तस्करों को जैतपुरा पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर नक्खीघाट पुल के पास से गिरफ्तार किया। तीनों के पास से पांच किलो गांजा और एक बाइक बरामद की गई है।

पूछताछ करने पर पकड़े गए अभियुक्तों ने बताया कि लॉकडाउन लागू होने के बाद से वह चंदौली से गांजा लाकर जैतपुरा, सारनाथ, आशापुर, नक्खीघाट, चौकाघाट सहित आसपास के इलाकों में ऊंचे दाम पर बेचके थें। इंस्पेक्टर शशिभूषण राय ने बताया कि शुक्रवार की देर रात पता चला कि बाइक सवार तीन गांजा तस्कर नक्खीघाट से होते हुए चौकाघाट की तरफ जा रहे हैं। पुलिस ने नक्खीघाट के पास चेकिंग शुरू की। सारनाथ की तरफ से आ रहे बाइक सवार तीन युवक पुलिस को देखकर बाइक मोड़ पर भागने लगे।

पुलिस ने उन्हें दौड़ा कर पकड़ लिया। तलाशी लेने पर उनके पास से झोले में रखा गया पांच किलो गांजा बरामद हुआ। पकड़े गए अभियुक्तों ने अपना नाम गणेश सोनकर, चंद्रिका प्रसाद प्रधान और सोमेश सिंह उर्फ सूरज निवासी नक्खीघाट निवासी सारनाथ बताया। तीनों चंदौली जिले के ताजपुर निवासी जावेद और छोटू सिंह के यहां से गांजा लाकर उसे बेचते थें। जैतपुरा पुलिस ने पूछताछ के बाद तीनों आरोपियों का शनिवार को चालान कर दिया। वहीं, जावेद और छोटू सिंह की तलाश की जा रही है।

You cannot copy content of this page