Breaking Crime Varanasi ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

बस परिचालक की मौत : झोलाछाप शटर गिराकर भागा, थाना प्रभारी ने कहा- तहरीर के आधार पर होगी कार्रवाई

Varanasi : सिंधौरा थाना क्षेत्र के हिरावनपुर गांव में झोलाछाप के गलत दवा दिये जाने से रोडवेज बस में संविदा परिचालक सुजीत सिंह उर्फ भोले (30) की रविवार को मौत हो गई। आरोप है कि गलत दवा के कारण भोले की किडनी और लीवर खराब हो गए थे। भोले का लंका स्थित एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा था। भोले की मौत की सूचना मिलते ही झोलाछाप शटर गिराकर भाग निकला।

हिरावनपुर गांव में सुजीत का कटरा भी है। इसी कटरे में किराये पर कमरा लेकर झोलाछाप क्लीनिक चला रहा था। कुछ दिन पहले युवक को बुखार आने पर उसने दवा दी। कई दिन से बदल-बदल कर दवा दे रहा था। जब हालत बिगड़ने लगी तो दो दिन पहले उसने हाथ खड़े कर दिए।

परिजन लेकर लंका स्थित एक निजी अस्पताल पहुंचे। वहां इलाज शुरू हुआ। पता चला कि गलत दवा की अधिक डोज से मरीज की किडनी व लीवर पर गहरा असर पड़ा है। रविवार को मौत के बाद झोलाछाप भाग निकला। मौके पर परिजन पहुंचे और ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। सिंधौरा थाना प्रभारी प्रेम नारायण विश्वकर्मा ने बताया कि तहरीर के आधार पर केस दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

You cannot copy content of this page