धर्म-कर्म राशिफल 

पंचांग और राशिफल : जानिए आपके लिए कैसा रहेगा शुक्रवार का दिन और कब है आज का शुभ मुहूर्त

Pandit Loknath Shastri पंचांग 30 सितंबर 2022तिथि पंचमी 10:36 PMनक्षत्र अनुराधा +04:19 AMकरण :बव 11:25 AMबालव 11:25 AMपक्ष शुक्लयोग प्रीति 10:32 PMवार शुक्रवारसूर्योदय 05:49 AMचन्द्रोदय 09:56 AMचन्द्र राशि वृश्चिकसूर्यास्त 05:46 PMचन्द्रास्त 08:49 PMऋतु शरदशक सम्वत 1944 शुभकृतकलि सम्वत 5124दिन काल 11:57 AMविक्रम सम्वत 2079मास अमांत आश्विनमास पूर्णिमांत आश्विनअभिजित 11:24:03 – 12:11:52दुष्टमुहूर्त 08:12 AM – 09:00 AMकंटक 12:59 PM – 01:47 PMयमघण्ट 04:10 PM – 04:58 PMराहु काल 10:18 AM – 11:47 AMकुलिक 08:12 AM – 09:00 AMकालवेला या अर्द्धयाम 02:35 PM – 03:23 PMयमगण्ड 02:47 PM – 04:16 PMगुलिक काल…

और पढ़ें।
Breaking Exclusive Varanasi उत्तर प्रदेश ऑन द स्पॉट धर्म-कर्म पूर्वांचल 

रामलीला का 21वां दिन : रावण को मंदोदरी की बात अच्छी नहीं लगी, लंका तक पहुंची प्रभु श्रीराम की सेना, अंगद ने प्रहस्त को मार डाला, लंकेश को माफी मांगने की सलाह

Sanjay Pandey Varanasi : रावण को पटरानी मंदोदरी सहित मंत्रियों की कही हुई सम्पूर्ण राक्षस कुल की हित की बातें अच्छी नहीं लगतीं। वह श्रीराम सहित सारे वानर सेना की खिल्ली उड़ाता है। रामनगर की रामलीला में इक्कीसवें दिन शनिवार को श्रीराम का सेना सहित सिन्धु पार गमन, सेना वर्णन, सुमेर गिरि विश्राम तथा अंगद विस्तार का मंचन हुआ। श्रीराम नल व नील द्वारा बनाएं गए सेतु से सेना को सिन्धु के पार जाने की अनुमति देते हैं। श्रीराम की सेना में मौजूद वानर रास्ते में राक्षसों द्वारा रोके जाने…

और पढ़ें।
Breaking Exclusive Varanasi ऑन द स्पॉट धर्म-कर्म पूर्वांचल 

शारदीय नवरात्रि का चौथा दिन : देवी कूष्मांडा के दरबार में भक्तों का तांता, मां के दर्शन मात्र से पूरी होती है मुराद

Varanasi : शारदीय नवरात्र की चतुर्थी तिथि पर देवी के कूष्मांडा स्वरूप का दर्शन-पूजन करने का विधान है। अपनी मंद मुस्कान से पिंड से ब्रह्मांड तक का सृजन देवी ने इसी स्वरूप में किया था। कूष्मांडा स्वरूप के दर्शन पूजन से न सिर्फ रोग-शोक दूर होता है अपितु यश, बल और धन में भी वृद्धि होती है। काशी में देवी के प्रकट होने की कथा राजा सुबाहु से जुड़ी है। देवी कुष्मांडा का मंदिर दुर्गाकुंड क्षेत्र में स्थित है। इन्हें दुर्गाकुंड वाली मां दुर्गा के नाम से भी जाना जाता…

और पढ़ें।
Breaking Exclusive Varanasi उत्तर प्रदेश ऑन द स्पॉट धर्म-कर्म पूर्वांचल 

दुर्गाबाड़ी की बड़ी महत्ता : 255 साल बाद भी मां की प्रतिमा का नहीं हुआ विसर्जन, जानिए माता की महिमा

Varanasi : धर्म, शिक्षा, चिकित्सा और अध्यात्म की नगरी काशी के नाम एक से बढ़कर एक उपलब्धियां जुड़ी हुई हैैं। इन दिनों शारदीय नवरात्र की पावन बेला चल रही है। बनारस में नवरात्र को बहुत ही खास अंदाज में मनाए जाने के लिए जाना जाता है। शहर में मदनपुरा के पुरातन दुर्गाबाड़ी स्थान की बड़ी महत्ता और कई कहानियां जुड़ी हुई हैैं। यहां 255 साल पुरानी मिट्टी की बनी मां दुर्गा की प्रतिमा को देख कर कम आश्चर्य नहीं होता है। यहां की देवी प्रतिमा को बनाने वाले कलाकार की कारीगरी कहिए या चमत्कार। सन 1767 के आसपास स्थापित इस…

और पढ़ें।
Exclusive धर्म-कर्म राशिफल 

राशिफल और पंचांग : आज इन राशि के लोगों की आर्थिक स्थिति रहेगी ठीक, इन लोगों को होगी दिक्कत, जानिए शुभ मुहूर्त

Pandit Loknath Shastri पंचांग 29 – Sep – 2022तिथि चतुर्थी +00:11 AMनक्षत्र :स्वाति 05:53 AMविशाखा 05:53 AMकरण :वणिज 12:52 PMविष्टि 12:52 PMपक्ष शुक्लयोग विश्कुम्भ +00:55 AMवार गुरुवारसूर्योदय 05:49 AMचन्द्रोदय 08:52 AMचन्द्र राशि तुलासूर्यास्त 05:47 PMचन्द्रास्त 08:04 PMऋतु शरदशक सम्वत 1944 शुभकृतकलि सम्वत 5124दिन काल 11:58 AMविक्रम सम्वत 2079मास अमांत आश्विनमास पूर्णिमांत आश्विनअभिजित 11:24:21 – 12:12:15दुष्टमुहूर्त 09:48 AM – 10:36 AMकंटक 02:35 PM – 03:23 PMयमघण्ट 06:36 AM – 07:24 AMराहु काल 01:18 PM – 02:47 PMकुलिक 09:48 AM – 10:36 AMकालवेला या अर्द्धयाम 04:11 PM – 04:59 PMयमगण्ड 05:49 AM…

और पढ़ें।
Breaking Exclusive Varanasi उत्तर प्रदेश ऑन द स्पॉट धर्म-कर्म पूर्वांचल 

प्रभु श्रीराम की कथा : संधानेउ प्रभु बिसिख कराला, उठी उदधि उर अंतर ज्वाला, जानिए आज विश्वप्रसिद्ध रामनगर की रामलीला में और क्या हुआ

Sanjay Pandey Varanasi : संधानेउ प्रभु बिसिख कराला। उठी उदधि उर अंतर ज्वाला॥ दरअसल, लंका पर चढ़ाई के लिए श्रीराम की सेना अब तैयार हुई। समुद्र पार करना जरूरी था। जिसे पार करने के लिए श्रीराम समुद्र से कहते हैं लेकिन समुद्र के हठ पर वे प्रत्यंचा चढ़ाते हैं, जिसके बाद समुद्र देव मान जाते हैं और भगवान राम को उनकी सेना में शामिल नल और नील के बारे में जानकारी देते हैं। नल, नील सहित पूरी बानरी सेना समुद्र पर पुल बनाने में जुट जाती है। बुधवार को रामनगर…

और पढ़ें।
Breaking Exclusive Varanasi ऑन द स्पॉट धर्म-कर्म पूर्वांचल 

शारदीय नवरात्र का तीसरा दिन : मां चंद्रघंटा का दर्शन-पूजन, सभी मुरादें पूरी करती हैं माता

Varanasi : शारदीय नवरात्रि के तीसरे दिन मां चंद्रघंटा के दर्शन-पूजा का विधान है। चौक के लक्खी चौतरा गली में बुधवार को मां चंद्रघंटा मंदिर शेरावाली के जयकारों से गूंज उठा। मंदिर परिसर से लेकर गलियों तक में देश भर से आए भक्तों की भारी भीड़ थी। मां चंद्रघंटा का गुड़हल और बेले के फूल से श्रृंगार किया गया। सुबह 4 बजे से ही जय माता दी और हर-हर महादेव के नारे लग रहे थे। भक्त दुर्गा सप्तशती का पाठ कर रहे थे। मान्यता है कि काशी में मोक्ष दिलाने…

और पढ़ें।
Exclusive धर्म-कर्म राशिफल 

राशिफल और पंचांग : जानिए आज का शुभ मुहूर्त, इन राशि के लोगों को होगा मुनाफा, इन लोगों को आज बोलते वक्त बरतनी है सावधानी

Pandit Loknath Shastri पंचांग-28 – Sep – 2022तिथि तृतीया +01:29 AMनक्षत्र चित्रा 06:15 AMकरण :तैतिल 02:02 PMगर 02:02 PMपक्ष शुक्लयोग वैधृति +03:06 AMवार बुधवारसूर्योदय 05:48 AMचन्द्रोदय 07:52 AMचन्द्र राशि तुलासूर्यास्त 05:48 PMचन्द्रास्त 07:26 PMऋतु शरदशक सम्वत 1944 शुभकृतकलि सम्वत 5124दिन काल 11:59 AMविक्रम सम्वत 2079मास अमांत आश्विनमास पूर्णिमांत आश्विनअभिजित कोई नहींदुष्टमुहूर्त 11:24 AM – 12:12 PMकंटक 04:12 PM – 05:00 PMयमघण्ट 08:12 AM – 09:00 AMराहु काल 11:48 AM – 01:18 PMकुलिक 11:24 AM – 12:12 PMकालवेला या अर्द्धयाम 06:36 AM – 07:24 AMयमगण्ड 07:18 AM – 08:48 AMगुलिक काल…

और पढ़ें।
Breaking Crime Varanasi ऑन द स्पॉट धर्म-कर्म पूर्वांचल 

श्रीविश्वनाथ के पिनाक से होगी धाम की सुरक्षा : CP ए. सतीश गणेश ने की प्रवेश पूजा, अत्याधुनिक भवन हैंडोवर

Varanasi : श्रीकाशी विश्वनाथ धाम के बनने के बाद उसकी सुरक्षा पर सरकार ने नए सिरे से मंथन शुरू किया था। इसके बाद इस धाम के अंदर ही भगवान शिव के धनुष के नाम पर ‘पिनाक’ भवन का निर्माण करवाया गया है जिससे अब धाम की सुरक्षा की मॉनिटरिंग होगी। पिनाक भवन की मंगलवार को विधि-विधान से पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने प्रवेश पूजा की। भवन में पुलिस, सीआरपीएफ, पीएसी, बम स्क्वायड, एलआईयू सहित सभी विंग के अफसर बैठेंगे। पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश के साथ एडीजी राम कुमार,…

और पढ़ें।
Breaking Exclusive Varanasi ऑन द स्पॉट धर्म-कर्म पूर्वांचल 

नवरात्रि के दूसरे दिन देवी ब्रह्मचारिणी का दर्शन-पूजन : मां के जयकारों से गुंजायमान हुआ मंदिर परिसर, भक्तों के सभी कष्टों को करती हैं दूर

Varanasi : शारदीय नवरात्र का आज दूसरा दिन है। नवरात्र के दूसरे दिन हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं ने मां ब्रह्मचारिणी के स्वरूप का दर्शन किया। मंगलवार की भोर से ही भक्त लाइन में लगे रहे। घण्टा-घड़ियाल व मां के जयकारों से मंदिर परिसर गूंजता रहा। महिलाओं ने नारियल-चुनरी के साथ ही साथ देवी को लाल चूड़ी, सिंदूर, आलता आदि भी अर्पित किए। प्रतिवर्ष द्वितीया तिथि पर दर्शन-पूजन करने वाले नेमी रात्रि दो बजे से ही मंदिर पहुंचे लगे थे। मंदिर खुलने के समय तक भक्तों की कतार सब्जी मंडी…

और पढ़ें।

You cannot copy content of this page