Lockdown में सहूलियत के लिए राज्यमंत्री ने किया ये काम, Public को मिलेगा आराम

#Varanasi : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के स्टाम्प एवं पंजीयन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) ने शनिवार को लखनऊ स्थित मुख्यमंत्री आवास पर सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ से मुलाकात किया। राज्यमंत्री ने कोरोना महामारी को लेकर लगातार चल रहे लॉकडाउन से जनता व प्रदेशवासियों को राहत प्रदान करने के तहत अपना विजन का प्रेजेंटेशन पेश किया।

याद होगा, CM Yogi द्वारा गत बुधवार को स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्रीयों की बैठक में स्टाम्प एवं निबन्धन मंत्री रवीन्द्र जायसवाल को लॉकडाउन को खोलने के लिए रूपरेखा तय करने को कहा था। उसी क्रम में राज्यमंत्री रवीन्द्र जयसवाल ने अपनी टीम के सदस्यों राकेश चौरसिया और आयुष जायसवाल के साथ एक सॉफ्टवेयर बनाया था। जिसके अंतर्गत Covid-19 वैश्विक महामारी के वक्त दुकानों को सोशल डिस्टेंसिंग रखते हुए लॉकडाउन खोलने के लिए दुकानदारों व आम जनता के लिए एक ही पोर्टल द्वारा पास जारी कर पूरी जनसंख्या को तीन श्रेणी में बांटकर थोड़े-थोड़े समय के अंतराल में ऑड-ईवन की तर्ज पर सभी लोग पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन आरोग्य सेतु एप्प से जुड़कर इस एप्प से करेंगे। वेरिफिकेशन जांच अधिकारी जांच कर सर्टिफिकेट व ई-पास जारी करेगा जो A, B, C श्रेणी में होगा।

यह पास हॉटस्पॉट व कंटेन्मेंट जोन में लागू नहीं होंगे व रेड जोन, ग्रीन जोन, ऑरेंज जोन में अलग-अलग समय के लिए लागू होंगे। यह सारे पास मोबाइल नम्बर से जुड़े होंगे। जिससे जनता एक बार में भीड़ नहीं लगा सकेगी और चरणबद्ध तरीके से लॉकडाउन में ढील भी दी जा सकेगी। इसके साथ अर्थव्यवस्था की गति भी बनी रहेगी। सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस सफल व दूरदर्शितापूर्वक प्रयास के लिए मंत्री रवीन्द्र जायसवाल व टीम के सदस्यों आयुष जायसवाल और राकेश चौरसिया को धन्यवाद दिया। कहा, निश्चित रूप से इस प्रयास पर विचार किया जाएगा।