Health Varanasi 

CMO ने हॉस्पिटल का जायजा लिया : कई चिकित्साधिकारी और कर्मचारी गायब मिले, ECG Room को Ground floor पर सिफ्ट करने के निर्देश

Varanasi : मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. संदीप चौधरी ने पं. दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्सालय का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान कई चिकित्साधिकारी और कर्मचारी अनुपस्थित पाये गये। इसपर सीएमओ ने काफी नाराजगी जतायी। अनुपस्थित चिकित्साअधिकारी और कर्मचारियों से उन्होंने जवाब तलब किया है। इस दौरान उन्होंने ईसीजी कक्ष को भू-तल पर सिफ्ट कराने के साथ ही अस्पताल की व्यवस्था को सुधारने के लिए अन्य आवश्यक निर्देश दिये।

सीएमओ डॉ. संदीप चौधरी मंगलवार की सुबह करीब 8.45 बजे पं. दीन दयाल उपाध्या राजकीय चिकित्सालय पहुंचे। आकस्मिक निरीक्षण में डॉ. संजय कुमार सिंह आर्थोसर्जन, डॉ. अरूण कुमार तिवारी ईएमओ, डॉ. केके बनरवाल आर्थो सर्जन, डॉ. शिवेश जायसवाल जनरल सर्जन, डॉ. शिवपूजन मौर्या एनेथिसिया, डॉ. मनीष तिवारी बाल रोग विशेषज्ञ, डॉ. बृजेश कुमार आर्थोसर्जन, डॉ. रामकुमार एनेस्टेटिस्ट, डॉ. गोविंद प्रसाद नेत्र सर्जन, डॉ. अश्वनी कुमार सिंह फिजिशियन, संविदा चिकित्साधिकारी डॉ. एकता कुमारी गुप्ता टेलीमेडिसिन चिकित्साधिकारी, डॉ. रियाज अहमद बाल रोग विशेषज्ञ, डॉ. पीएस मिश्रा फिजिशियन, डॉ. संतोष कुमार आर्थोसर्जन, डॉ. निहारिका मौर्या दंत शल्य, डॉ. बिजेंद्र कुमार सिंह चिकित्साधिकारी, मुनीर अहमद चीफ फार्मासिस्ट, उदय प्रताप सिंह फार्मासिस्ट, प्रवीन पांडेय ट्रामा सेंटर, कंचनलता ब्लडबैंक, अंतिमा देवी डार्क रूम सहायक अनुपस्थित पाये गये।

इसी तरह एआरटी सेंटर के अर्थना उपाध्याय काउंसलर, सुष्मिता तिवारी काउंसलर, आईसीटी सेंटर के नौशाद अली एलटीओएसटी सेंटर की श्रीमती अंजनी त्रिपाठी, रामा इन्फोटेक के सत्य प्रकाश वार्ड ब्याय, राजेश कुमार मौर्या वार्ड ब्याय, मो. अमीन सफाईकर्मी और महेश कुमार सफाईकर्मी अनुपस्थित पाये गये।

अजीत कुमार चौबे, सतीश उपाध्याय, राहुल कुमार, दीपक कुमार प्रदीप सिंह, राकेश कुमार सिंह, प्रदीप कुमार तिवारी, चंचल कुमार राय वाहन चालक, ब्लड बैंक के मनोज राय एलटी और छैल बिहारी प्रसाद एलटी अनुपस्थित पाये गये।

ओएसटी से संतराज यादव मैनेजर, प्रेम प्रकाश श्रीवास्तव काउंसलर तथा अंजनी त्रिपाठी स्टाफ नर्स अनुपस्थित पाये गये। संविदा कर्मियों में डॉ. एलपी गुप्ता पैथा ब्लडबैंक, डॉ. मुकेश पाठक ईएमओ, डॉ. नरेंद्र मौर्या ईएमओ और शिवम T. पैथालाजी अनुपस्थित पाये गये।

कार्यालय से विजय प्रताप कन्नौजिया वरिष्ठ सहायक, राजेश कुमार रावत कार्यालय सहायक पारसनाथ कार्यलय सहायक, सत्येंद्र कुमार सिंह एलए, विभांशु सिंह एलए, राकेश कुमार सिंह एलए, अशोक कुमार एलए, राजेंद्र कुमार एलए, भुल्लू राव एलए और संजय ओझा फार्मासिस्ट अनुपस्थित पाये गये।

निरीक्षण के दौरान ईसीजी कक्ष में बहुत ही अनियमितता पायी गयी। सीएमओ ने कहा कि ईसीजी कक्ष प्रथम तल पर होने के कारण हृदयरोगियों के लिये सीढ़ी या रैम्प के द्वारा ईसीजी कराने के लिए जाने पर कभी भी हृदयाघात होने की सम्भावना बनी रहती हैं, जो कि चिकित्सकीय मानको और मानवीय दृष्टिकोण से उचित नहीं हैं। सीएमओ ने निर्देश दिया कि ईसीजी मशीन को इमरजेंसी कक्ष में स्थापित करें। ताकि इमरजेंसी में आने वाले मरीजों का 24 घंटे ईसीजी किया जा सके। निरीक्षण के दौरान चिकित्सालय के लगभग समस्त ओपीडी कक्ष चिकित्सकों के अभाव में पूरी तरह से खाली मिले। वहां मरीजों की भीड़ लगी हुई थी। चिकित्सालय के चिकित्सकों द्वारा ओपीडी में मरीजों को चिकित्सालय में उपलब्ध दवाओं के अतिरिक्त अभी भी बाजार से दवायें लिखने की शिकायत मिली।

इससे साफ था कि बार-बार चेतावनी दिये जाने के बावजूद चिकित्सकों द्वारा प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र का कोई सहयोग नहीं किया जा रहा है। उन्होंने चिकित्सालय के समस्त चिकित्सकों कोे निर्देश दिया कि वे प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र के संचालक से समन्वय स्थापित करते हुए जन औषधि केंद्र पर उपलब्ध दवाओं को ही चिकित्सालय में दवाओं की अनुपलब्धता होने पर लिखें और मरीजों-उनके परिजनों को जन औषधि केंद्र से दवा लाने के लिए प्रोत्साहित करें। उन्होंने अस्पताल की साफ-सफाई व्यवस्था सहित अन्य व्यवस्थाओं में भी सुधार के निर्देश दिये।

You cannot copy content of this page