Breaking Varanasi ऑन द स्पॉट धर्म-कर्म पूर्वांचल 

काशी की रंगभरी एकादशी : मां गौरा के गौने में जमकर उड़े अबीर-गुलाल, शिव धाम पहुंची पालकी यात्रा, 10 तस्वीरों में देखें भक्तों का उत्साह

Varanasi : देहात के शहावाबाद में रंगभरी एकादशी पर सोमवार को माता गौरा का गौना कराने भगवान आशुतोष पहुंचे। हर साल की तरह इस बार भी पालकी के साथ क्षेत्रीय श्रद्धालु रंग-गुलाल उड़ाते हुए चल रहे थे। सागरपुर, नाडापुर, मेरापुर होते हुए दरेखू स्थित प्राचीन शिव धाम मंदिर पर पालकी यात्रा पहुंची।

ब्रह्मणों द्वारा विधिवत मंत्रोच्चारण के साथ भगवान भोलेनाथ द्वारा माता गौरा के गौने का रस्म पूरा कराया गया। संयोजक दीपक जायसवाल ने बताया कि महाशिवरात्रि को हम लोग बाबा भोलेनाथ का बारात कई साल से निकालते चले आ रहे हैं। रंगभरी एकादशी के दिन मां गौरा की पालकी यात्रा हर्षोल्लास के साथ निकाली जाती है। पालकी यात्रा में डमरू दल, मां काली की मूर्ति, ढोल-नगाड़े के साथ श्रद्धालुओं का हुजूम जुटता है।

कहा, ब्राह्मणों द्वारा विधि-विधान से बाबा भोलेनाथ और मां पार्वती का गौना संपन्न कराया जाता है।

इनकी रही मौजूदगी

ग्राम प्रधान मनीष जायसवाल, विजय मोदनवाल, सनी गुप्ता, दीपक जख्मी, नंदलाल जायसवाल, विजय चिलम, मंगला प्रसाद मिश्रा, देवनाथ, शिवम मिश्रा, भगवान प्रसाद गुप्ता, रवि सिंह, पवन सिंह, पंकज मिश्रा सहित कई शिवम भक्त इस दौरान मौजूद थे।

You cannot copy content of this page