Breaking Crime Varanasi ऑन द स्पॉट 

पुलिस आयुक्त तक पहुंची थी शिकायत : शिवमंदिर और फूलों का बाग मुक्त कराया गया, रास्ते पर दीवार खड़ी कर कब्जा जमा लिया गया था

Varanasi : तमिलनाडु के शिवगंगा के करईकुट्टी की सोसाइटी श्रीकाशी नातकुट्टई नगर क्षेत्रम की महमूरगंज में शिव मंदिर और फूलों की बागवानी है। साल 2003 से इस बागवानी पर यहीं के मनबढ़ ने कब्जा कर रखा था। सोसाइटी के लोगों की शिकायत पर सिगरा पुलिस ने इसे मुक्त कराया। चाबी सोसाइटी को सौंप दी गई है।

दरअसल, सोसाइटी का वाराणसी में मुख्य ऑफिस गोदौलिया में है। शहर में चार जगह पर सोसाइटी की संपत्ति है। इसमें एक गोशाला, मंदिर, बागवानी और एक अन्य संपत्ति है। महमूरगंज स्थित बागवानी के रास्ते पर दीवार खड़ी कर इस पर कब्जा जमा लिया गया था। यह कब्जा 2003 से था।

शिकायत दो दिन पहले सोसाइटी के लोगों ने पुलिस आयुक्त ए. सतीश गणेश से की। पुलिस आयुक्त ने ADCP वरुणा प्रबल प्रताप सिंह को निर्देशित किया। सिगरा पुलिस की ओर से संपत्ति खाली करा लिया गया।

गौरतलब है, सोसाइटी की ओर से ही साल 1813 से यानी 209 साल से बाबा विश्वनाथ के श्रृंगार के लिए बेलपत्र, फूल आदि मुहैया कराया जाता है। सोसाइट की ओर से रोजाना पांच सौ श्रद्धालुओं का प्रसाद भी बनता है।

You cannot copy content of this page