#Covid_19 : 3600 लोगों की होगी स्क्रीनिंग, संदिग्ध मरीज को भी सेंपलिंग के लिए भेजा ESI

#Varanasi : गोला निवासीएक युवक के कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद प्रसासन अलर्ट मोड में है। 24 घण्टे बीतने के बाद कोरोना संक्रमित मरीज के चाचा को भी कोरोना जांच के लिए ईएसआई भेज दिया गया। उक्त व्यक्ति ने कोरोना संक्रमित युवक को बाइक पर बैठाकर अस्पताल पहुंचाया था। इधर, मरीज के घर सहित आसपास के 13 घरों के इलाके को सील करने के बाद स्वास्थ टीम अपने कार्य मे जुट गई है। घर के एक रिश्तेदार सहित कुल 15 सदस्यों की एक लिस्ट तैयार की गई है जिसे माना जा रहा है कि कोरोना संदिग्ध के संपर्क में विशेष रूप से रहे हैं। उनकी थर्मल स्क्रीनिंग और सैम्पलिंग की जाएगी।

माइक्रोप्लान तैयार, स्वास्थ्य विभाग की टीम ने शुरू की जांच

वायरस के फैलाव से रोकथाम के लिए चोलापुर विकासखण्ड के गोला और चोलापुर गांव के करीब 3600 लोगों की स्क्रीनिंग स्वास्थ टीम द्वारा करायी जा रही है। अन्य टीम द्वारा गोसाईपुर मोहाव एवं तेवर गांव की भी स्क्रीनिंग कराई जाएगी। चोलापुर स्वास्थ केंद्र के अधीक्षक डॉ. आर.बी यादव के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की अलग-अलग कुल पांच टीमों का गठन भी किया गया है। स्क्रीनिंग का काम शुरू कर दिया गया।

स्क्रीनिंग करने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने माइक्रो प्लान तैयार किया है। इसके लिए पांच टीम बनायी गयी है। एक टीम में दो आंगनवाड़ी सेविका, एक आशा, सुपरवाइजर एक चिकित्सक आदि को शामिल किया गया है। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए प्रशासन की ओर से पांच टीमें लगाकर कोरोना संक्रमित युवक के घर से एक किलोमीटर की परिधि में इलाके को चिन्हित कर घर-घर स्क्रीनिंग का कार्य शुरू कर दिया। 600 से अधिक लोगों की स्क्रीनिंग का कार्य पूरा हो चुका है। गोला और चोलापुर मिलाकर कुल 3600 लोगों के जांच का लक्ष्य स्वास्थ विभाग लेकर चला है जिसे उसने तीन दिवस के भीतर पूर्ण करने का संकल्प लिया है। अधीक्षक डॉ. आर.बी यादव ने बताया कि स्क्रीनिंग के वक्त कोरोना लक्षण या ट्रेवल हिस्ट्री के आधार पर नागरिकों की विशेष जांच की जायेगी।