Crime Varanasi ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस के लिए CP ए. सतीश गणेश ने जारी किया दिशा-निर्देश : शारदीय नवरात्र को देखते हुए सोशल मीडिया पर पुलिस रखेगी पैनी नजर, अराजक तत्वों की लिस्ट तैयार करने के साथ फोर्स के मुकम्मल प्रबंध की ताकीद

Varanasi : शारदीय नवरात्र सात अक्टूबर से शुरू हो रहा है। चंद्र दर्शन के अनुसार उसी दिन मुस्लिम सम्प्रदाय का पचासे का जुलूस भी उठाया जाएगा। नवरात्रि पर हर दिन माता के सभी स्वरूपों के मंदिरों पर सुरक्षा व्यवस्था और पंडालों की सुरक्षा के बाबत पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने आवश्यक दिशा निर्देश जारी किये हैं। CP ने सोशल मीडिया पर फैलने वाली अफवाहों पर सतर्क दृष्टि रखने और त्वरित कार्रवाई के आदेश दिए हैं।

शारदीय नवरात्र 14 ऑक्टूबर तक चलेगा। विजयदशमी का पर्व इस साल 15 अक्टूबर को मनाया जायेगा। देवी मंदिरों में और पूजा पंडालों में अलग-अलग तिथियों में पूजा-अर्चन होता है। श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ती है। CP ने शांति व्यवस्था बरकरार रखने के लिए कमिश्नरेट पुलिस के लिए विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किया है।

:- नवरात्र के दौरान कोविड-19 माहमारी की रोकथाम के लिए शासन द्वारा जारी दिशा-निर्देश का कड़ाई से अनुपालन किया जाए।

:- गत वर्षों के अभिलेखों के अनुसार कार्रवाई सुनिश्चित की जाए।

:- दुर्गापूजा समितियों की सूची, उनके संपर्क नंबर, स्थान, रुट सहित तैयार कराया जाए।

:- पूजा पंडाल प्रबंधकों और समिति के लोगों के साथ बैठक कर उन्हें कोविड 19 महामारी के दिशा निर्देश के पालन, पंडालों के आकार, CCTV कैमरों, अग्निशमन यंत्रों की उपलब्धता और यातायात के साथ सुरक्षा व्यवस्था आदि के संबंध में बताते हुए आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित करा ली जाए।

:- पूजा पंडाल स्थापना स्थलों का जायजा लेकर उनके स्थान, अकार और आवागमन बाधित न हो इसके लिए पूर्व में ही आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित कर लें।

:- विवादित-संवेदनशील स्थलों का जायजा लेकर समस्याओं का संधान और आवश्यक पुलिस प्रबंधन की रूपरेखा पूर्व में भी बना लें।

:- शांति समितियों की सदस्यों तथा दोनों सम्प्रदायों के संभ्रांत व्यक्तियों के साथ बैठक कर संवाद स्थापित किया जाए। उन्हें अपने संपर्क में रखा जाए।

:- शरारती तत्वों को चिह्नित कर उनकी सूची बनाकर उनके विरुद्ध प्रभावी निरोधात्मक कार्रवाई सुनिश्चित की जाए।

:- विसर्जन के लिए कोर्ट द्वारा जारी आदेश का अनुपालन कराते हुए सभी निर्धारित रूटों का जायजा, वाहनों के आकर और व्यक्तियों की संख्या का निर्धारण करा लिया जाए।

:- अग्निशमन अधिकारी द्वारा सभी पांडालों का भ्रमण कर अग्निशमन यंत्रों की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।

:- त्यौहार के दौरान छोटी से छोटी घटना पर सतर्क दृष्टि रखी जाए। तत्काल कार्रवाई सुनिश्चित की जाए।

:- सोशल मीडिया पर सतर्क नजर रखी जाए। अफवाहों का खंडन करते हुए अफवाह फैलाने वाले के विरुद्ध नियमानुसार आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित की जाए।

:- सभी ACP को निर्देशित किया गया है कि अपने-अपने क्षेत्र के मंदिरों की व्यवस्था का प्लान तैयार करें तथा गत वर्षों की व्यवस्था की समीक्षा करेंगे।

:- DCP काशी और वरुणा ADCP काशी और वरुणा को निर्देशित किया गया है कि स्वयं मौके पर जाकर तैयारी का जायजा लें।

:- सात अक्टूबर को चंद्र दर्शन के अनुसार मुस्लिम समुदाय के लोगों द्वारा पचासा का पर्व मनाया जाएगा जिसमे आलम, ताजिया, दुलदुल और अखाड़ा का जुलूस आदि निकलने के दौरान भी आवश्यक फोर्स प्रबंधन करने और सतर्क दृष्टि के लिए संबंधितों को निर्देशित किया गया है।

You cannot copy content of this page