Breaking Crime Varanasi उत्तर प्रदेश ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

DCP वरुणा कर रहे जांच : ज्ञानवापी सर्वे का आदेश देने वाले जज रवि कुमार दिवाकर को भेजा धमकी भरा खत, पुलिस आयुक्त बोले- समय-समय पर सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की जा रही है

Varanasi : जिला सत्र न्यायालय के सिविल जज सीनियर डिवीजन रवि कुमार दिवाकर को धमकी भरा खत भेजा गया है। जज को इस्लामिक आगाज मूवमेंट की ओर से जानमाल की धमकी रजिस्टर्ड डाक से भेजी गई है। पत्र मिलने के बाद वाराणसी कमिश्नरेट ने कैंट थाने की पुलिस और क्राइम ब्रांच को जांच के लिए निर्देश दे दिया है। खुद DCP वरुणा ने इस मामले में जांच कर रहे हैं। याद होगा, सिविल जज सीनियर डिवीजन रवि कुमार दिवाकर ने ज्ञानवापी परिसर के सर्वे का आदेश दिया था।

सिविल जज सीनियर डिवीजन रवि कुमार दिवाकर ने मीडिया को बताया कि उन्होंने आज ही डीजीपी, अपर प्रमुख सचिव गृह और पुलिस कमिश्नर वाराणसी से शिकायत की है। एक रजिस्टर्ड लेटर मेरे पास इस्लामिक आगाज मूवमेंट, नई दिल्ली के नाम से आया है।

वाराणसी के पुलिस आयुक्त ए. सतीश गणेश ने बताया कि आज दोपहर को ACJM रवि दिवाकर जी को एक पत्र रजिस्टर्ड पोस्ट से मिला है, जिसमें कुछ और कागज भी संलग्न है, इसकी जानकारी उनके द्वारा अभी दी गई है। DCP Varuna स्वयं इस प्रकरण की जांच कर रहे हैं। छानबीन जारी है। उनकी सुरक्षा में कुल नौ पुलिसकर्मी लगाए गए हैं। समय-समय पर इसकी समीक्षा भी की जा रही है। इसी प्रकार माननीय जिला न्यायाधीश जी की सुरक्षा में 10 पुलिसकर्मी लगे हुए हैं।

You cannot copy content of this page