Breaking Crime Varanasi ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

बस कंडक्टर की घिनौनी हरकत : LKG में पढ़ने वाली चार साल की मासूम से छेड़खानी का आरोप, स्कूल प्रबंधक सहित चार पर FIR

Varanasi : बनारस में एक बार फिर मासूम छात्रा के साथ छेड़खानी जैसी घिनौनी करतूत का मामला प्रकाश में आया है। तरना स्थित एक प्राइवेट स्कूल की चार साल की छात्रा के साथ छेड़खानी सहित अन्य आरोपों में बस कंडक्टर सहित चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

बड़ागांव थाने की पुलिस ने मामले में जांच शुरू कर दी है। परिजनों का कहना है कि घटना बीते अगस्त महीने की है। शिकायत के बाद भी कार्रवाई न होने पर एसपी ग्रामीण सूर्यकांत त्रिपाठी से की गई तो उनके निर्देश के आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया है।

लालपुर पांडेयपुर थाना क्षेत्र निवासी परिवार के अनुसार, उनकी चार साल की बच्ची ब्यास बाग, तरना स्थित एक प्राइवेट स्कूल में एलकेजी में पढ़ती है। जिस बस से उनकी बच्ची को घर छोड़ा जाता था उसमें मौजूद कंडक्टर स्वामीनाथ उसके साथ छेड़खानी करता था।

आरोप है कि बीते जून माह से जब भी बच्ची अपने घर पहुंचती थी तो वह डरी-सहमी हुई नजर आती थी। बच्ची ने बताया कि कंडक्टर उसे परेशान करता है और गंदी हरकत करता है। बच्ची की बातें सुन कर स्कूल के ट्रांसपोर्ट इंचार्ज विनय, प्रबंधक और क्लास टीचर से संपर्क कर शिकायत की गई।शिकायत के बाद भी स्कूल प्रबंधन द्वारा इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की गई। परिजनों ने बताया कि स्कूल प्रबंधन की मौजूदगी में सीसीटीवी फुटेज देखा गया तो कंडक्टर बच्ची को अपनी गोद में बैठाए हुए दिखाई दिया।

वह बच्ची के शरीर को भी छू रहा था। इस प्रकरण को लेकर शिकायत किए जाने के बाद भी स्कूल प्रबंधन द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई। इसके बाद बड़ागांव थाने की पुलिस और फिर एसपी ग्रामीण से शिकायत की गई। एसपी ग्रामीण से की गई शिकायत के आधार पर बड़ागांव थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है।

आरोप निराधार

स्कूल के ट्रांसपोर्ट इंचार्ज विनय ने कहा कि सड़क में कई जगह गड्ढे रहते हैं। ट्रैफिक के दौरान बस में ब्रेक लगाया जाता है, उसके चलते कभी-कभार छोटे बच्चे गिर जाते हैं। कंडक्टर द्वारा बच्ची की सुरक्षा के लिए उसे पकड़ा गया था। अभिभावक द्वारा लगाया गया आरोप पूरी तरह से निराधार है।

You cannot copy content of this page