Varanasi ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

सर्किट हाउस की नयी बिल्डिंग के लिए कवायद शुरू : DM ने किया जगह का निरीक्षण, 50 कमरों का होगा नया भवन

Varanasi : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के काशी से संसदीय चुनाव जीतने के बाद वाराणसी में लगातार राज्यपाल, केंद्रीय मंत्री, अन्य राज्यों के मुख्यमंत्री, मंत्री, केंद्रीय और राज्य स्तर के अधिकारियों का आना जाना बना रहता है। ऐसे में वाराणसी में बना 12 कमरों और 2 गवर्नर सुईट वाला सर्किट हाउस छोटा पड़ता है। ऐसे में शासन की मंशा अनुरूप जिला प्रशासन के निर्देशन में पीडब्ल्यूडी विभाग ने सर्किट हाउस में नयी बिल्डिंग के निर्माण कार्य के लिए डिजाइन पर कार्य करना शुरू कर दिया है। इसी क्रम में जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने पीडब्ल्यूडी के कर्मचारियों के संग मंगलवार को बिल्डिंग के लिए चिह्नित जमीन को देखा और मातहतों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

उन्होंने निरीक्षण के बाद बताया कि वाराणसी के सर्किट हाउस की क्षमता काफी कम है। इसमें सिर्फ 12 कमरे और दो गवर्नर सुईट हैं। प्रधानमंत्री के यहां से सांसद बनने के बाद यहां राज्यपाल, मुख्यम्नत्री, केंद्रीय मंत्री, राज्य स्तर के मंत्री, सचिव और अन्य अधिकारियों का आवागमन बढ़ सा गया है। ऐसे में पिछले साल से ही यहां नए और बड़े सर्किट हाउस की आवश्यकता महसूस की जा रही थी। ऐसे में शासन द्वारा धनराशि स्वीकृत होने के बाद इसकी डिजाइन पर कार्य शुरू हो गया है जो जल्द ही फाइनल हो जाएगी।

उन्होंने बताया कि सर्किट हाउस की नयी एनेक्सी में 50 कमरे बनाये जाएंगे। लोगों की डिमांड सिंगल रुम की जयदा होती है इसलिए सिंगल रूम जयदा बनाये जा रहे हैं। इसके अलावा दो रूम सुईट और दो जम्बो सुईट भी बनाये जाएंगे। यह बिल्डिंग एक से डेढ़ साल में हैंडओवर कर दी जायेगी।

बताया कि इसके पहले भी एक 12 कमरे का भवन बन रहा है जो अगले 6 महीने में तैयार हो जाएगा। यहां नए भवन और इसे मिलकर कुल 60 से 62 कमरे बनाये जाएंगे। कुम्भ भी आने वाला है ऐसे में उसे भी देखते हुए कार्य किया जा रहा है।

You cannot copy content of this page