Breaking Crime Health Varanasi ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

पैसा कमाने वालों में खौफ : गड़बड़ी पर एक और प्राइवेट हॉस्पिटल बंद कराने का निर्देश, संचालक पर होगी कार्रवाई

Varanasi : जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग की ओर से अवैध अस्पतालों के खिलाफ अभियान में नरिया स्थित सहयोग हास्पिटल के औचक निरीक्षण में गड़बड़ियां मिली। निरीक्षण के दौरान वहां कोई भी योग्य चिकित्सक नहीं मिला। अस्पताल को बंद कराने के साथ ही संचालक के खिलाफ कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. संदीप चौधरी ने बताया कि अवैध निजी अस्पतालों के खिलाफ शुरू किये गये अभियान के तहत नारिया स्थित सहयोग अस्पताल का औचक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान कोई भी चिकित्सक वहां नहीं पाया गया।

मात्र एक स्टाफ उपस्थित थी जिन्होंने अपना नाम निशा बताया और यह भी बताया कि डा. टीएस उपाध्याय (बीएएमएस) यहां सुबह और शाम बैठते हैं। डा. एमके सिंह काफी समय से बीमार चल रहे हैं। निरीक्षण के दौरान चिकित्सालय में दो बेड पड़े थे। एलोपेथिक दवायें तथा इंजेक्शन रखे थे।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जानकारी दी गई है कि चिकित्सालय बिना पंजीयन के संचालित किया जा रहा है। दूरभाष पर डा. टीएस उपाध्याय को तत्काल प्रभाव से चिकित्सालय बंद करने के निर्देश दिये गये। साथ ही आवश्यक कार्रवाई की जा रही है।

You cannot copy content of this page