Health Varanasi 

स्वास्थ्य मेला आयोजित : बेहतर सेहत के प्रति लोगों को किया गया जागरूक, बोले विधायक त्रिभुवन राम- स्वास्थ्य के प्रति सभी का सजग होना जरूरी

Varanasi : स्वास्थ्य के प्रति हम सभी को सजग रहना चाहिए। सतर्कता हमें निरोग काया प्रदान करती है। समाज का हर व्यक्ति जब स्वस्थ होगा तभी देश में खुशहाली आयेगी। यही कारण है कि केन्द्र और प्रदेश सरकार सभी के स्वास्थ्य के प्रति गंभीर है और चिकित्सकीय सेवाओं को बेहतर बनाने का लगातार प्रयास कर रही है। आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में शुक्रवार को हरहुआ ब्लाक में स्वास्थ्य मेले का उद्घाटन करते हुए अजगरा के विधायक त्रिभुवन राम ने उक्त बातें कहीं।

हरहुआ ब्लाक के कोईराजपुर क्षेत्र स्थित संत अतुलानंद विद्यालय परिसर में आयोजित इस स्वास्थ्य मेले में सात सौ से अधिक लोगों ने चिकित्सकीय सेवाओं का लाभ उठाने के साथ ही विभिन्न विभागों के हितकारी योजनाओं की जानकारी भी हासिल की। इस दौरान सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च (सीफार) संस्था के सहयोग से नुक्कड़ नाटक का आयोजन कर लोगों को मानसिक स्वास्थ्य के साथ ही संचारी रोग नियंत्रण प्रति जागरूक किया गया, जिसकी लोगों ने सराहना की।

मेले के उद्घाटन के बाद विधायक ने स्वास्थ्य मेला में लगे विभिन्न स्टालों का जायजा लिया और आरईसीडीएस विभाग के स्टाल पर पहुंच कर छह माह पूर्ण कर चुके दो बच्चों का अन्नप्राशन कराया व तीन गर्भवती की गोदभराई करते हुये पोषण टोकरी वितरित की। विधायक त्रिभुवन राम ने कहा कि कोविड काल में देश के चिकित्साकर्मियों ने रात-दिन एक कर जिस तरह लोगों की जान बचाने का प्रयास किया, उसकी जितनी भी सराहना की जाए कम है। चिकित्सकों और स्वास्थ्यकर्मियों की मेहनत की ही देन है कि आज हम न सिर्फ इस क्षेत्र में आत्मनिर्भर बने हैं बल्कि जरूरत पड़ने पर दूसरे देशों को भी चिकित्सकीय मदद पहुंचा रहे हैं।

भाजपा के जिला अध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा ने कहा कि हम जब स्वस्थ रहेंगे तभी जीवन की खुशियों को प्राप्त कर सकेंगे। इसलिए सभी को अपने स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देना चाहिए। सभी को बेहतर चिकित्सकीय सुविधा मिले यह सरकार की प्राथमिकता में है। यही कारण है कि सरकार के निर्देश पर सभी ब्लाकों पर स्वास्थ्य मेले का आयोजन किया जा रहा है। स्वास्थ्य मेले में अन्य विभागों के भी स्टाल लगाये गये है ताकि स्वास्थ्य के साथ ही सरकार की अन्य योजनाओं के बारे में लोगों को जानकारी मिल सके और इससे सभी लाभान्वित हो। उन्होंने कहा कि गरीबों की योजनाओं को गरीबों तक पहुंचाना हमारा संकल्प है और इस संकल्प को हम पूरा करेंगे।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. संदीप चौधरी ने स्वास्थ्य मेले में स्टाल लगाने वाले सभी विभागों के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार की योजनाओं को आमजन तक पहुंचाकर ही हम स्वस्थ समाज के साथ-साथ समृद्ध समाज बनाने के लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं। सीएमओ ने कहा कि हमारा पूरा प्रयास है कि सरकार की स्वास्थ्य संबंधित सभी योजनाओं का लाभ समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचे और इस दिशा में हम लगातार प्रयास कर रहे हैं।

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. एके मौर्य ने कहा कि स्वास्थ्य मेले का उद्देश्य ग्रामीणों को स्वास्थ्य जांच, उपचार व परामर्श देना तो है ही विभिन्न विभागों की हितकारी योजनाओं व कार्यक्रमों के बारे में एक ही छत के नीचे जानकारी देना भी है।

स्वास्थ्य मेले में 772 लोगों ने पंजीकरण कराया। इस दौरान 612 व्यक्तियों की जांच व उपचार किया गया। 46 लोगों को आयुष्मान कार्ड जारी किए गए। स्वास्थ्य मेले में कुल 10 विभागों ने सहभागिता की।

कार्यक्रम के प्रारम्भ में प्राथमिक विद्यालय चक्का-हरहुआ की छात्राओं ने शिव तांडव की शानदार प्रस्तुति की। प्राथमिक विद्यालय की अध्यापिका अनुपमा व शिक्षामित्र कमलेश कुमार ने जागरुकता गीत गाया। अतिथियों के आगमन पर संत अतुलानंद विद्यालय के छात्र- छात्राओं ने स्वागत गीत गाया। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हरहुआ के कर्मियों ने लघु नाटिका के जरिए टीबी रोग के बारे में लोगों को जानकारी दी।

समारोह में भाजपा के जिला मंत्री शिवानंद राय, मंडल पदाधिकारी रौनक जायसवाल के साथ ही डीएचईआईओ हरिवंश यादव, डॉ. अतुल सिंह, डॉ. रवींद्र कुशवाहा, जिला विकास अधिकारी राजेश यादव, खंड विकास अधिकारी धर्मेंद्र द्विवेदी, पीएचसी हरहुआ के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ. आरके सिंह, बीपीएम बसंत लाल श्रीवास्तव, अपर शोध अधिकारी श्रीनाथ यादव मौजूद थे।

नुक्कड़ नाटक को सभी ने सराहा

स्वास्थ्य मेले में सेंटर फॉर एडवोकेसी एंड रिसर्च (सीफार) के सहयोग से नुक्कड़ नाटक का आयोजन कर लोगों को संचारी रोग नियंत्रण व मानसिक रोग के प्रति जागरूक किया गया। नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत कर रहे प्रेरणा कला मंच के कलाकारों ने अपने अभिनय से बताया कि हमारी जरा सी सतर्कता से लोग संचारी रोगों से बच सकते हैं। साथ ही उन्होंने अपने अभिनय के जरिए मानसिक रोगों के प्रति लोगों को जागरूक किया। लोगों ने दोनों ही नाट्य प्रस्तुति को खूब सराहा।
मेले में स्वास्थ्य विभाग, खाद्य सुरक्षा विभाग, युवा कार्यक्रम और खेल विभाग, आयुष विभाग, शिक्षा विभाग, महिला बाल विकास विभाग, ग्रामीण विकास विभाग, दिव्यांग कल्याण विभाग सहित आयुष्मान भारत-साचीज द्वारा अपने-अपने स्टॉल लगाकर जन सामान्य को संबंधित योजनाओं-कार्यक्रमों की जानकारी और सेवाएं प्रदान की गईं। स्वास्थ्य मेले के आयोजन की लाभार्थियों ने सराहना की।

आयर निवासी लोकनाथ (42 वर्ष) ने बताया कि मेले में शामिल हो कर उन्होंने अपनी आंखों की निशुल्क जांच करायी साथ ही अन्य विभागों की ओर से संचालित योजनाओं की जानकारी हासिल की। कोईराजपुर की रहने वाली ममता ने बताया कि मेले में शामिल होकर उन्होंने अपने साथ-साथ बेटी के भी स्वास्थ्य की जांच कराया। स्वास्थ्य मेला उनके लिए काफी लाभकारी रहा।

You cannot copy content of this page