Breaking Crime Varanasi उत्तर प्रदेश ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

गड़बड़ी पर चिल्ड्रेन हास्पिटल का रजिस्ट्रेशन रद करने का निर्देश : हॉस्पिटल क्लीनिक के लिए पंजीकृत था, भर्ती किए जा रहे थे मरीज, जांच में कोई योग्य डॉक्टर भी नहीं मिला

Varanasi : जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग की ओर से अवैध अस्पतालों के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान में पिपलानी कटरा स्थित लक्ष्मी मेमोरियल मल्टी स्पेशिलिटी चिल्ड्रेन हास्पिटल के औचक निरीक्षण में भारी गड़बड़ियां मिली।

अस्पताल में कई गंभीर मरीज भर्ती थे पर निरीक्षण के दौरान वहां कोई योग्य चिकित्सक नहीं मिला, जबकि चिकित्सालय का पंजीकरण क्लीनिक के रूप में किया गया है इतना ही नहीं बायो मेडिकल वेस्ट प्रबन्धन में भी लापरवाही पायी गयी। इसे देखते हुए उक्त अस्पताल को बंद कराने के साथ ही उसका पंजीयन रद्द करने का निर्देश दिया गया है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. संदीप चौधरी ने बताया कि अवैध निजी अस्पतालों के खिलाफ शुरू किये गये अभियान के तहत मंगलवार
को पिपलानी कटरा स्थित लक्ष्मी मेमोरियल मल्टी स्पेशिलिटी चिल्ड्रेन हास्पिटल के औचक निरीक्षण कराया गया निरीक्षण के समय श्याम बिहारी उपस्थित मिले जिन्होंने अपने को चिकित्सालय का कर्मचारी बताया तथा चिकित्सालय के सम्बन्ध में बाल रोग विशेषज्ञ और लक्ष्मी मेमोरियल मल्टी स्पेशिलिटी चिल्ड्रेन हास्पिटल, मकबूल आलम रोड, खजुरी, वाराणसी के संचालक चिकित्सक डा. एमके गुप्ता से दूरभाष पर वार्ता करायी। डा. एमके गुप्ता ने दूरभाष पर उक्त चिकित्सालय का अपना होना स्वीकार किया तथा यह भी बताया कि इसे उन्होंने चिल्ड्रेन क्लीनिक के नाम पर ओपीडी के तौर पर पंजीकृत कराया है।

चिकित्सालय के निरीक्षण के दौरान 07 छोटे बच्चे भर्ती मिले, जो 02 से 03 दिनों से भर्ती थे और उनकी देखरेख के लिए कोई भी योग्य चिकित्सक अथवा पैरामेडिकल स्टाफ उपस्थित नहीं था। भर्ती मरीजों से निकलने वाले बायो मेडिकल वेस्ट का भी कोई प्रबन्धन नहीं किया जा रहा था। उपस्थित स्टाफ द्वारा जांच प्रक्रिया में सहयोग नहीं किया गया। डा. एमके गुप्ता को दूरभाष पर उक्त भर्ती 07 मरीजों को यहां से तत्काल हटाकर अन्य स्थान पर भर्ती कराते हुए इस चिकित्सा प्रतिष्ठान को बन्द करने के लिए कहा गया। साथ ही डा. एमके गुप्ता को कारण बताओ नोटिस देते हुए चिल्ड्रेन क्लीनिक सी 23/5के, कबीरमठ, पिपलानी वाराणसी (पंजीयन संख्या एएल-1189) का पंजीयन तत्काल प्रभाव से निरस्त किये जाने की संस्तुति की गयी।

You cannot copy content of this page