Breaking Exclusive Lucknow Politics Varanasi उत्तर प्रदेश ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

5-G नेटवर्क की सेवाओं की लॉन्चिंग : रुद्राक्ष सेंटर में बोले CM Yogi- 5-G की गति से इनोवेटिव उड़ानों को मिलेगा नया आसमान, बाबा दरबार में दर्शन-पूजन

Varanasi : 5जी नेटवर्क की सेवाओं की लॉन्चिंग के साथ ही देश में एक और संचार क्रांति हो रही है। वाराणसी शहर भी इस शानदार पलों का साक्षी बना है। शनिवार की सुबह सीएम योगी का हेलिकॉप्टर सवा 9 बजे वाराणसी पहुंचे। यहां से कार के जरिए वो सर्किट हाउस पहुंचे। रुद्राक्ष कन्‍वेंशन सेंटर में 5जी सेवा की लॉन्चिंग प्रोग्राम रखा गया था। इंडियन मोबाइल कांग्रेस-2022 से वर्चुअली सीएम योगी भी जुड़े थे।

यहां सीएम योगी ने कहा कि 5जी सेवाएं दुनिया को बदल देगी। टेक्नोलॉजी से हम मजबूत होने वाले हैं। 5जी सेवा आज से वाराणसी समेत देश के 8 शहरों को मिलने जा रही है। सीएम योगी ने कहा, नए भारत को आज से 5G की गति मिल रही है। इनोवेटिव उड़ानों को नया आसमान मिलेग। शिक्षा-स्वास्थ्य इन्फ्रास्ट्रक्चर हो या एग्रीकल्चर… जीवन के किसी भी क्षेत्र में बदलाव जरूरी होते हैं। विश्व की सबसे बड़ी महामारी के दौरान गरीब के घर तक पैसे पहुंचाना था।

तो हम डिजिटल तरीके से पैसे भेज देते थे। हमें इस ताकत का एहसास हुआ जब ऑनलाइन एजुकेशन से छात्र-छात्राओं को अपनी शिक्षा को आगे बढ़ाने में मदद मिली। सरकार ने 2020 में अभ्युदय की सुविधा लॉन्च की। इसका लाभ युवाओं को मिला। 2 करोड़ युवाओं को मोबाइल और टैब उपलब्ध कराने का काम जारी है।

ग्राम पंचायतें इंटरनेट हाई स्पीड से जोड़ी जा रहीं

सीएम योगी ने कहा कि यूपी में हम हर ग्राम पंचायत को इंटरनेट की हाई स्पीड सुविधा से जोड़ने का काम कर रहे हैं। ग्राम पंचायत से 243 तरह की सेवाओं को गांव में ही उपलब्ध करवाने का काम कर रहे हैं। अभी गांव के व्यक्ति को जाति आय और निवास प्रमाण के लिए मुख्यालय का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा। गांव के अंदर ग्राम सचिवालय में सारी सुविधा उपलब्ध होगी। बैंक का लेनदेन हो या बिजली का बिल जमा करने हो, कहीं जाना नहीं पड़ेगा।

सीएम की सुरक्षा में सेंध का प्रयास

सीएम योगी आदित्‍यनाथ के शनिवार की सुबह सर्किट हाउस पहुंचना था। यहां संदिग्ध रूप से घूम रहे एक युवक को वहां मौजूद सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों ने पकड़ लिया। सर्किट हाउस के सामने से पकड़ा गया संदिग्ध युवक अपने आप को CBCID का बता रहा था। पुलिस की जांच में उसे फर्जी पाया गया है। उसे कैंट थाने ले जाकर उससे पूछताछ की जा रही है।

4-जी से तीस गुणा तेज 5-जी


यह 5वीं पीढ़ी का मोबाइल नेटवर्क है। 1G, 2G, 3G और 4G के बाद यह नया वैश्विक वायरलेस स्टैंडर्ड है। इसे 4G से 30 गुना तक तेज माना जा रहा है। कोई एक कंपनी या व्यक्ति 5G का मालिक नहीं है। मोबाइल नेटवर्क इंफ्रास्ट्रक्चर में कई कंपनियां हैं, जो 5G नेटवर्क को आपके इस्तेमाल के लायक बना रही हैं।

बाबा के दरबार में सीएम ने किया दर्शन-पूजन

5-जी कार्यक्रम के इस आयोजन के बाद सीएम योगी काशी विश्वनाथ में दर्शन और पूजन करने पहुंचे। उनके दौरे को देखते हुए काशी विश्वनाथ धाम के आस-पास सुरक्षा बढ़ा दी गई थी।

You cannot copy content of this page