Breaking Crime Varanasi ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

मानापुर गोलीकांड का खुलासा : पिस्टल खरीद-फरोख्त के विवाद में हुई थी फायरिंग, भागने के फेर में तेज बहादुर को लगी थी गोली, असलहा देने के एवज में सौरभ ने लिए थे इतने रुपये

Varanasi : मानापुर गोलीकांड का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पिस्टल खरीद-फरोख्त के विवाद में फायरिंग हुई थी। भागने के फेर में तेज बहादुर को गोली लगी थी। असलहा देने के एवज में सौरभ ने लिए 15 हजार रुपये लिए थे। शूटआउट के मामले में पुलिस ने दो हत्यारोपियों को गिरफ्तार किया है।

दरअसल, मानापुर के पास बीते एक अक्टूबर को दो युवकों को गोली मार दी गयी थी। गोली लगने से तेज बहादुर पटेल पुत्र उदय पटेल दल्लीपुर, बड़ागांव (19) की मौत हो गयी थी। सौरभ उर्फ किशन पटेल को बीएचयू ट्रामा सेंटर रेफर किया गया था। तेज बहादुर के पिता की तहरीर पर फूलपुर पुलिस ने मुकदमा कायम किया था।

एसपी सूर्यकांत त्रिपाठी ने खुलासे के लिए सीओ पिंडरा के नेतृत्व में पुलिस की टीम लगाया था। पुलिस अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही थी। एसपी सूर्यकांत त्रिपाठी ने बताया कि बुधवार को बरही नेवादा, जौनपुर बार्डर के पास से वारदात में शामिल निखिल यादव पुत्र संतोष यादव निवासी रिकेवीपुर, नेवढिया, जौनपुर (20) व प्रिंस राय छोटू पुत्र वंशराज राय निवासी धर्मपुर, रामपुर, जौनपुर (19) को गिरफ्तार कर लिया गया। वारदात में इस्तेमाल पल्सर बाइक सहित दो तमंचा 12 बोर, दो कारतूस 12 बोर, 5600 रुपये और एक स्मार्टफोन दोनों के पास से बरामद हुआ।

पूछताछ में पता चला कि मुख्य अभियुक्त आकाश ने असलहा खरीदने के लिए किशन पटेल को 15000 रुपये दिए थे, लेकिन किशन पटेल असलहा और रुपये देने में आनाकानी करने लगा। आकाश ने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर किशन पटेल को गोली मारी। हमलावरों ने बाइक लेकर भाग रहे तेज बहादुर को भी पीछे से पीठ पर गोली मारी। तेज बहादुर कुछ दूरी पर जाकर बाइक सहित गिर गया। उसकी मौत हो गई। कार्यवाहक थानाध्यक्ष फूलपुर अभिषेक राय ने बताया कि पुलिस आकाश की तलाश कर रही है।

You cannot copy content of this page