Education Varanasi ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

CM Yogi की सोच को आगे बढ़ा रहे मनोज : अबतक कई बच्चों को शिक्षा की मुख्यधारा से जोड़ा, शुरुआती दौर में करनी पड़ी जरूरत से ज्यादा मशक्कत

Navin Pradhan

Varanasi : स्कूल चलो अभियान की शुरुआत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 4 अप्रैल को किया था जो कि 30 अप्रैल तक चलेगा। मुख्यमंत्री ने अभियान की शुरुआत के क्रम में जनप्रतिनिधि और अधिकारियों से स्कूलों को गोद लेने के साथ शिक्षा से उन छात्रों को जोड़ने की बात कही जो किसी कारणवश स्कूल नहीं जा पाते। शिक्षा से दूर रह जाते हैं।

ऐसे में मुख्यमंत्री के ड्रीम प्रोजेक्ट स्कूल चलो अभियान को मूर्त रूप देने का काम अजगरा विधानसभा क्षेत्र के उगापुर गांव के मनोज यादव कर रहे हैं। मनोज आर्थिक रूप से काफी कमजोर हैं लेकिन उनका मन काफी बड़ा है। मनोज ने पंडित मदन मोहन मालवीय जी की बगिया बनारस हिंदू विश्वविद्यालय से स्नातक किया। पंडित जी को प्रेरणा मानकर, ज्योतिबा फुले और भीमराव अंबेडकर को पढ़कर मन में गरीब छात्रों को शिक्षा से जोड़ने का ख्याल आया, जिसे उन्होंने मूर्त रूप देना शुरू कर दिया। शुरुआत में उन्हें काफी समस्याओं का सामना करना पड़ा लेकिन धीरे-धीरे लोगों का मदद की मिलना शुरू हो गया।

बातचीत के क्रम में मनोज ने बताया कि वह पांच साल से कई छात्रों को शिक्षा की मुख्यधारा से जोड़ चुके हैं। आगे भी यह का कार्य करते रहेंगे। बच्चों को स्कूल जाने के लिए प्रेरित करने के साथ ही उन्हें अपने घर पर पढ़ाने का कार्य भी करते हैं। मनोज बताते हैं कि उनका क्षेत्र काफी पिछड़ा है। यहां के लोग अमूमन अपने बच्चों को शिक्षा से दूर रखते हैं।

अति पिछड़ा होने के कारण बच्चों से मजदूरी करवाते हैं या बच्चों से भीख मंगवाने जैसे कार्य को कराते हैं, ऐसे में उन्होंने कड़ी मशक्कत से छात्रों को शिक्षा की मुख्यधारा से जोड़ने का काम किया। मनोज की लगन को देखते हुए भाजपा के जिला मंत्री शिवानंद राय ने गरीब छात्रों के शिक्षा पर होने वाले खर्च का जिम्मा खुद उठाने का वादा किया। शिवानंद राय प्रत्येक माह छात्रों में पाठ्य सामग्री का वितरित करते हैं।

You cannot copy content of this page