Breaking Crime Varanasi ऑन द स्पॉट 

राष्ट्रीय लोक अदालत : 25295 वादों का निस्तारण, 16 विवाहित जोड़ों को एक साथ रहने के लिए राजी किया गया

Varanasi: राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण और उप्र राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के आदेशानुसार जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वाधान में शनिवार को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन दीवानी न्यायालय परिसर में किया गया। जिसका मनोरंजन कक्ष में जनपद न्यायाधीश-अध्यक्ष डॉ. अजय कृष्ण विश्वेश ने दीप प्रज्वलित कर विधिवत शुभारम्भ किया।

राष्ट्रीय लोक अदालत में 25295 वादों का निस्तारण किया गया। विधिक सचिव कुमुद लता त्रिपाठी ने बताया कि राष्ट्रीय लोक अदालत ने शनिवार को दीवानी के कुल 141 वाद, पारिवारिक वाद 49, मोटर दुर्घटना क्षतिपूर्ति के 46 वाद मे बीमा कम्पनी द्वारा पीड़ित पक्षकारों रुपये 2,58,01,053 की धनराशि दिलायी गयी।

फौजदारी के 3565 मामलों में अर्थदण्ड के रूप में 44,42,425 रुपये वसूल किया गया। एनआई एक्ट के 155 वाद, बैंकों व कम्यूनिकेशन प्रीलिटिगेशन स्तर के 1097 मामलों का निस्तारण हुआ। जिसमें 6,33,65,380 रुपये की धनराशि की वसूली के लिए समझौता हुआ।

प्रशासन और अन्य विभागों द्वारा 20242 वादों का निस्तारण किया गया। पारिवारिक न्यायालय द्वारा 16 विवाहित जोड़ो को सुलह-समझौते के साथ एक साथ रहने के लिए राजी किया गया।

You cannot copy content of this page