Breaking Education Varanasi ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

राष्ट्रीय सेवा योजना BHU : संगीत साधकों ने गीत और संगीत के जरिये भारत स्वाधीनता संग्राम के सेनानियों को याद किया

Varanasi : राष्ट्रीय सेवा योजना बीएचयू इकाई की ओर से मंगलवार को आयोजित कार्यक्रम में संगीत साधकों ने गीत और संगीत के जरिये भारत स्वाधीनता संग्राम के सेनानियों को याद किया। आजादी का अमृत महोत्सव और एक भारत श्रेष्ठ भारत कार्यक्रम के तहत राष्ट्रीय युवा संगीत सम्मेलन में देश के विभिन्न शहरों के कलाकारों का जमावड़ा रहा।

राष्ट्रीय युवा संगीत सम्मेलन की 101वीं कड़ी के मुख्य अतिथि के रूप में शिक्षा विद डॉ. अजय कुमार गोविंद राव ने कहा कि एक भारत श्रेष्ठ भारत कार्यक्रम और आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम के माध्यम से हम भारतीय स्वतंत्रता के अमर स्वतंत्रता सेनानियों को याद कर रहे हैं। स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि एक भारत श्रेष्ठ भारत कार्यक्रम और आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम के माध्यम से भारत के युवाओं में राष्ट्र गौरव की चेतना जागृत किया जा रहा है, जिससे जुड़कर युवा भारत के गौरवशाली अतीत से रूबरू होंगे और उन्हें अपने राष्ट्र के महानता पर गर्व होगा।

वे राष्ट्र की बलिवेदी पर समर्पित होने के लिए तैयार होंगे। राष्ट्रीय युवा संगीत सम्मेलन का उद्घाटन राष्ट्रीय संगीतज्ञ परिवार के महानिदेशक पंडित देवेंद्र वर्मा ने किया। उन्होंने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव और एक भारत श्रेष्ठ भारत कार्यक्रम भारत के युवाओं के लिए भारत सरकार द्वारा आयोजित किया जाने वाला एक अत्यंत ही महत्वपूर्ण कार्यक्रम है, जिससे देशभर में एकात्मकता, प्रेम और सद्भावना का संदेश फैल रहा है।

विशिष्ट अतिथि के रूप में प्रोफेसर लावण्या कीर्ति सिंह काव्या ने भी स्वयं सेवकों को संबोधित किया। समारोह की अध्यक्षता अरुणोदय विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर विश्वनाथ शर्मा ने किया। कार्यक्रम का शुभारंभ पद्मश्री पंडित विनय चंद्र मौदगल्य द्वारा रचित देशभक्ति गीत- हिंद देश के निवासी सभी जन एक हैं से हुआ, जिसे अरुणाचल प्रदेश के स्वयंसेवक तादादा पांग ने प्रस्तुत किया।

इसके उपरांत रौशन कुमार द्वारा रूपक ताल में तबला वादन की प्रस्तुति की गई। एस पृथिका, एस नंदिता, श्रेष्ठा राय, नविता आंचल ने नृत्य आचार्या सोमा रे के निर्देशन में भरतनाट्यम की प्रस्तुति दिया। कार्यक्रम का समापन शुभांगी मिश्रा द्वारा प्रस्तुत राग बागेश्वरी में सितार वादन की प्रस्तुति के साथ हुआ, इनके साथ तबला संगति पंडित दिनेश मिश्रा कर रहे थे।

कार्यक्रम में पदमश्री पंडित रामदयाल शर्मा, प्रोफेसर पंकज माला शर्मा, पंडित सतीश बोहरा, डॉ. वीरेंद्र कुमार चंद्रसखी, प्रोफेसर उपेंद्र सिंह, डॉ. संध्या गुप्ता, डॉ. सच्चिदानंद त्रिपाठी, डॉ. पूनम जयसवाल, डॉ. बिलंबिता वाणीसुधा, डॉ. अन्नपूर्णा दीक्षित, रंजीत राय, निखिल बोहरा, नीतिन भारद्वाज सहित कई अतिथि मौजूद थे।

आरंभ में राष्ट्रीय सेवा योजना के क्षेत्रीय निदेशक डॉ. अशोक श्रोति ने एक भारत श्रेष्ठ भारत और आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम के विविध पक्षों पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम का संचालन कार्यक्रम समन्वयक डॉ. बाला लखेंद्र ने किया और धन्यवाद ज्ञापन डॉ पंकज बोरा ने किया।

You cannot copy content of this page