Breaking Exclusive Varanasi उत्तर प्रदेश धर्म-कर्म पूर्वांचल 

शारदीय नवरात्र की नवमी : बाबा कीनाराम आश्रम में पूजी गईं कन्याएं, भैरव के पांव पखारे गए

Varanasi : नवरात्र में कन्या पूजन का विशेष महत्व है। इसी क्रम में मंगलवार को रवींद्रपुरी स्थित विश्व विख्यात अघोर पीठ अघोराचार्य बाबा कीनाराम अघोर शोध और सेवा संस्थान के पीठाधीश्वर, सर्वेश्वरी समूह व अघोर सेवा मंडल के अध्यक्ष परम पूज्य बाबा सिद्धार्थ गौतम रामजी के दिशा-निर्देश में नवकुमारी कन्याओं और भैरव का पूजन बड़े ही विधि-विधान के साथ श्रद्धापूर्वक के साथ किया गया।

इस दौरान स्थल प्रांगण में हजारों भक्तों ने कतारबद्ध तरीके से देविस्वरूप में सजी संवरी कुमारी कन्याओं और भैरव का पूजन कर आशीर्वाद लिया। अनुयायियों ने अघोराचार्य बाबा कीनाराम स्थल पर स्थित सभी समाधि का भी दर्शन-पूजन किया। कीनाराम आश्रम परिसर में हर हर महादेव के उद्घोष से पूरा आश्रम गुंजायमान रहा।


नन्हीं-नन्हीं कुंवारी कन्याओं को लाल-लाल चुनरी ओढ़ायी गयी। उनका पूजन-अर्चन कर पांव पखारे गये, उन्हें पूड़ी, सब्जी, मिष्ठान, दही और फल आदि सात्विक भोजन से तृप्त किया गया। नौ देवी स्वरूपी कन्या और भैरव के बाल स्वरूप के पूजन विधि में आश्रम से सम्बंधित आचार्य प्रकाश जी ने महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन किया।

कार्यक्रम में संस्थान के सहयोग के रूप में व्यवस्थापक सेवा मंडल के सदस्य, अनुप कुमार सिंह मंटू, सीएन ओझा, डीके सिंह, विनय सिंह आदि लोगों ने कार्यक्रम के प्रबंधन में सराहनीय सहयोग प्रदान किया।

You cannot copy content of this page