Politics Varanasi उत्तर प्रदेश ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

नेपाली प्रधानमंत्री का काशी दौरा : CP ए. सतीश गणेश ने की अधिकारियों के साथ मीटिंग, सुरक्षा व्यवस्था सहित अन्य मसलों पर दिए जरूरी निर्देश

Varanasi : नेपाल और भारत ने संयुक्त रूप से नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा की 1 अप्रैल से भारत यात्रा की घोषणा की है। नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा की ये पदभार संभालने के बाद पहली भारत यात्रा है। नेपाल के विदेश मंत्रालय (MOFA) के मुताबिक, तीन दिनी यात्रा भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निमंत्रण पर हो रही है।

तीन दिनी यात्रा के अनुत्तम दिन नेपाली प्रधानमंत्री वाराणसी भी आएंगे। श्रीकाशी विश्वनाथ धाम के साथ ही साथ ललिता घाट पर स्थित नेपाली मंदिर में बाबा पशुपति नाथ का भी दर्शन-पूजन करेंगे।

नेपाली प्रधानमंत्री की वाराणसी यात्रा के मद्देनजर पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने बुधवार को अधिकारियों संग सुरक्षा व्यवस्था और रुट डायवर्जन को लेकर अहम बैठक की। उन्होंने अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।

नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा 3 अप्रैल को वाराणसी आएंगे। यहीं से वापस नेपाल लौट जाएंगे। वाराणसी में देउबा प्रसिद्ध काशी विश्वनाथ मंदिर और नेपाली मंदिर, जिसे श्री समरेश्वर पशुपतिनाथ महादेव मंदिर भी कहा जाता है, का दौरा करेंगे।

भगवान शिव को समर्पित नेपाली मंदिर ललिता घाट पर स्थित है और इसकी परिकल्पना दिवंगत नेपाली राजा राणा बहादुर शाह ने की थी, जिन्हें 1800-1804 तक शहर में निर्वासित कर दिया गया था।

नेपाली राजा राणा बहादुर शाह अपने निर्वासन के दौरान वाराणसी में काठमांडू के प्रसिद्ध पशुपतिनाथ मंदिर की प्रतिकृति बनाने का फैसला किया। मंदिर के निर्माण को उनके पुत्र, राजा गिरवन युद्ध बिक्रम शाह ने आगे बढ़ाया।

पहले देउबा को वाइब्रेंट गुजरात शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए जनवरी में भारत की यात्रा करनी थी, लेकिन कोविड -19 महामारी की तीसरी लहर के कारण इसे रद कर दिया गया था।

You cannot copy content of this page