Breaking Exclusive Politics Varanasi ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

पीएम का जन्मदिन : काशी में किसी ने काटा 72 किलो का केक तो कहीं हुआ दुग्धाभिषेक, युवाओं में नमो टैटू का क्रेज

Varanasi : प्रधानमंत्री व वाराणसी के सांसद नरेंद्र मोदी का आज 72वां जन्मदिवस है। उनके संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी आज विश्वकर्मा पूजा के शुभ अवसर पर उनके जन्मदिन का जश्न मनाया गया। प्रधानमंत्री की लंबी आयु के लिए गंगा घाट पर पूजा-पाठ की गई। पीएम के लोकसभा क्षेत्र वाराणसी में 72 वैदिक बटुकों ने गंगा में दुग्धाभिषेक किया। भाजपा महानगर कार्यसमिति सदस्य पवन शुक्ला के नेतृत्व में अहिल्याबाई घाट पर विप्र समाज व भाजपा कार्यकर्ताओं ने शहर दक्षिणी के विधायक व पूर्व राज्यमंत्री डा. नीलकंठ तिवारी के मुख्य आतिथ्य में 51 लीटर दूध व केशर जल से नरेंद्र मोदी के दीर्घायुस्व की कामना से अभिषेक किया। वहीं युवा वर्ग में भी खासा उत्साह देखने को मिल रहा है। युवा वर्ग अपने हाथों में उनकी फोटो और नमो लिखवा कर टैटू बनवा रहे हैं। क्षेत्र में मिठाई बांटने के साथ ही केक काटे गए। काशी के लोग आज कुछ अलग अंदाज में अपने सांसद और देश के प्रधानमंत्री का जन्मदिन मनाया।

पीएम ने दिया ऐतिहासिक रिटर्न गिफ्ट

देश के प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी का जन्‍मदिन देश ही नहीं बल्कि उनका संसदीय क्षेत्र वाराणसी भी धूमाधाम से मनाया गया। पीएम नरेन्‍द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी को सांस्‍कृतिक और पर्यटन की राजधानी का दर्जा शंघाई सहयोग संगठन की ओर से मिलने के बाद अब काशी को और भी वैश्विक पहचान मिलने जा रही है। यहां का कारोबार सहयोग संगठन में शामिल देशों के बीच अब अपनी पहचान बनाने जा रहा है। काशी को पीएम नरेन्‍द्र मोदी के प्रयासों ने काफी बदल दिया है। 2014 से 2022 के बीच आठ सालों में पीएम ने तमाम मौकों पर काशी को रिटर्न गिफ्ट देकर शहर को वैश्विक पहचान दिलाने में सफलता हासिल की है।

पीएम के जन्मदिन पर दुग्धाभिषेक

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आज 72वां जन्मदिन है। एक ओर पूरा देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का 72वां जन्मदिन मना रहा है वहीं उनके लोकसभा क्षेत्र वाराणसी में 72 वैदिक बटुकों ने गंगा में दुग्धाभिषेक किया। भाजपा महानगर कार्यसमिति सदस्य पवन शुक्ला के नेतृत्व में अहिल्याबाई घाट पर विप्र समाज व भाजपा कार्यकर्ताओं ने शहर दक्षिणी के विधायक व पूर्व राज्यमंत्री डॉ. नीलकंठ तिवारी के मुख्य आतिथ्य में 51 लीटर दूध व केशर जल से नरेंद्र मोदी के दीर्घायुस्व की कामना से अभिषेक किया। प्रारम्भ में वैदिक पंडित उदित नारायण मिश्र के आचार्यत्व में षोडशोपचार पूजन किया। इसके पश्चात वैदिक सूक्त के मंत्रों से केशर जल व दूध से अभिषेक किया। इस अवसर पर डॉ. नीलकंठ तिवारी ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी की आस्था सदैव से गंगा में रही है और इसी वजह से नमामि गंगे की स्थापना की गयी है। कार्यक्रम की अध्यक्षता विशाल औढ़ेकर ने किया। शामिल प्रमुख लोगों में रमेश तिवारी, विजय द्विवेदी, प्रकाश गुप्ता, डॉ.नीरज पाण्डेय, संदीप चतुर्वेदी, मृदुल शास्त्री, शामिल थे। वहीं, शनिवार को नमामि गंगे के तत्वावधान में नमो घाट पर पीएम मोदी का 72वां जन्मदिन मनाया गया। बड़ी संख्या में उपस्थित लोगों ने बधाई हो बधाई हो पीएम मोदी को बधाई, हर हर महादेव का उद्घोष कर जन्मोत्सव मनाया। हाथों में मोदी के चित्र लेकर केक काटकर, एक दूसरे को लड्ड़ू खिलाकर बधाई दी। मां गंगा को वस्त्र समर्पित कर मोदी के दीर्घायु की कामना की।
महानगर सहसंयोजक शिवम अग्रहरि ने बताया कि, काशी के सांसद व देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का काशी व काशीवासियों से विशेष लगाव है। विश्वकर्मा जयंती और प्रधानमंत्री मोदी का जन्मदिन एक ही दिन है। दोनों ही कुशल शिल्पकार हैं। वर्तमान राजनीति में मोदी सशक्त भारत, आत्मनिर्भर भारत, नवीन भारत के शिल्पकार हैं। कहा कि प्रधानमंत्री को स्वच्छता रूपी उपहार देने के लिए हम सभी निरंतर प्रयासरत हैं।उक्त अवसर पर नमामि गंगे काशी क्षेत्र के संयोजक उज्ज्वल वर्मा, महानगर सहसंयोजक रामप्रकाश जायसवाल, अभय स्वाभिमानी, रेखा विश्वकर्मा, शिवांगी पांडेय, रेनू जायसवाल जय विश्वकर्मा, आकाश शाह, उपेंद्र जायसवाल, सतीश वर्मा आदि उपस्थित रहें।

You cannot copy content of this page