Politics Varanasi देश 

Varanasi : कोरोना को अवसर में बदलने पर Prime minister Modi का जोर

अपने संसदीय क्षेत्र के सभी जनप्रतिनिधियों व प्रशासनिक के साथ वीडीयो कांफ्रेंसिंग पर की वार्ता

काशी विश्वनाथ धाम सहित अन्य मंदिरों को संरक्षित करने का निर्देश

Varanasi : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को अपने संसदीय क्षेत्र में चल रहे विकास कार्यों का हाल जाना। पीएम मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जनप्रतिनिधियों व शासनिक प्रशासनिक अधिकारियों से रूबरू हुए। उन्होंने निर्देशित किया कि कोरोना को अवसर में बदलने का प्रयास करें। महामारी से पूरा देश लड़ रहा है इस दौरान काशी के पर्यटक, स्वच्छता को प्रगति दे और इसको बेहतर से बेहतर बनाये । अधिकारियों ने उन्हें काशी विश्वनाथ मंदिर परिसर के ले-आउट को ड्रोन वीडियो के माध्यम से दिखाया। इसके साथ ही अधिकारियों ने कोविड-19 के प्रभावी प्रबंधन पर किए गए प्रयासों को लेकर भी चर्चा की।

काशी विश्वनाथ धाम परियोजना की प्रगति की समीक्षा करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने निर्देश दिया कि ऐसे सभी पुराने मंदिर जो काशी विश्वनाथ परिषद के विकास के समय प्राप्त थे, उन्हें संरक्षित और संरक्षित किया जाना चाहिए। उनकी ऐतिहासिक और स्थापत्य विरासत को बनाए रखने के लिए विशेषज्ञों की मदद ली जानी चाहिए। कार्बन डेटिंग का उपयोग कर इन मंदिरों और उनके महत्व के बारे में पर्यटक और तीर्थयात्री को बताना चाहिए। काशी विश्वनाथ ट्रस्ट को इस परिसर में यात्रा करने वाले तीर्थयात्रियों की सुविधा के लिए उचित पर्यटन गाइड के साथ एक मार्ग का नक्शा तैयार करना चाहिए।

अन्य विकास योजनाओं का जाना हाल

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी में शुरू की जा रही सभी परियोजनाओं की भी विस्तृत जानकारी ली। अधिकारियों ने बताया कि वर्तमान में लगभग 8000 करोड़ रुपये की लागत से वाराणसी में 100 से अधिक बड़ी परियोजनाएं चल रही हैं। इसमें अस्पताल भवन, राष्ट्रीय जलमार्ग, रिंग रोड, बाई-पास, भारत-जापान के सहयोग से इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर ‘रुद्राक्ष’ जैसे सामाजिक और भौतिक बुनियादी ढांचे के निर्माण शामिल हैं।

समय सीमा के भीतर हो कार्य

पीएम मोदी ने अधिकारियों को समय सीमा के भीतर विकास कार्यों को पूरा करने के लिए निर्देश दिया। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि गुणवत्ता के उच्चतम मानकों का विशेष ख्याल रखा जाना चाहिए। निर्देश दिया कि नेक्स्ट जेनरेशन इंफ्रास्ट्रक्चर को ध्यान में रखते हुए निर्माण के लिए गैर-नवीकरणीय ऊर्जा का अधिकतम उपयोग किया जाना चाहिए। कहा कि पूरे वाराणसी जिले में घरों और स्ट्रीट लाइट पर एलईडी बल्ब का उपयोग किया जाए।

काशी में पर्यटन के बढ़ावा पर विशेष जोर

काशी में पर्यटन और यात्रा के फुटप्रिंट को बढ़ाने के लिए क्रूज पर्यटन, लाइट एंड साउंड शो, खिड़किया और दशाश्वमेध घाटों का कायाकल्प, ऑडियो-वीडियो स्क्रीन के माध्यम से गंगा आरती का प्रदर्शन तेजी से किया जाना चाहिए। विश्व धरोहर के रूप में काशी की भूमिका को बढ़ावा देने और प्रचार करने के लिए सभी प्रयास किए जाने चाहिए। उन्होंने अधिकारियों को जापान, थाईलैंड आदि देशों के सप्ताह भर के त्यौहारों को आयोजित करने का निर्देश दिया, जहां बौद्ध धर्म को उनकी कला और संस्कृति विरासत को मनाया जाता है।

You cannot copy content of this page