Breaking Crime Varanasi ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

जमीन और दुकान कब्जा कराया : खाली करने के लिए तीन करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी, पुलिस ने कायम किया मुकदमा, CP बोले- गलत काम करने वालों की खैर नहीं

Varanasi : पुलिस आयुक्त (police commissioner) ए. सतीश गणेश (A. Satish Ganesh) के निर्देश पर वाराणसी पुलिस (Varanasi Police) भू-माफियाओं (land mafia) पर नकेल कस रही है। कमिश्नरेट पुलिस ने जमीन, मकान और दुकानों पर कब्जा करने वाले माफियाओं के खिलाफ अभियान चला रखा है। भू-माफियाओं के विरुद्ध सिगरा थाने (Sigra police station) में मुकदमा दर्ज किया गया है। इनके पर काशी नाटकोट्टई नगर क्षेत्रम की जमीन हड़पने का भी मुकदमा चल रहा है। फिलहाल इस मामले की पड़ताल भू-माफिया सेल कर रही है।

पुलिस आयुक्त ए. सतीश गणेश ने बताया कि पुलिस की कार्यप्रणाली में लोगों के बढ़े विश्वास की वजह से शरीफ लोग अपनी समस्या को पुलिस के समक्ष रख रहे हैं। काशी नाटकोट्टाई नगर क्षेत्रम के बेेश कीमती जमीन को हड़पने वाले भू माफियाओं के कब्जे से 300 करोड़ की भूमि कब्जा मुक्त करने के बाद उन्हीं माफियाओं का एक और कारनामा प्रकाश में आया है।

उन्होंने बताया कि ताजा मामले में एक विधवा महिला की करोड़ों की जमीन और दुकान धोखे से हथिया कर उसे अपने गिरोह के एक तीसरे व्यक्ति को कब्जा दिलाया। कब्जा खाली करने की एवज में तीन करोड़ रुपये की रंगदारी मांगी जा रही थी। इस प्रकरण में सिगरा थाने में मुकदमा दर्ज कर विवेचना प्रारंभ कर दिया गया है।

सीपी ने बताया कि आरोपी आनंद मोहन, कृष्णा मोहन और गोविंद अग्रवाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। संपूर्णानंद कॉलोनी सिगरा थाना क्षेत्र में है। उक्त कीमती जमीन और दुकान के संबंध में एंटी भू माफिया सेल द्वारा मामले की पड़ताल शुरू की गई है। दोनों शातिर भू माफिया एक रिटायर्ड पुलिस अधिकारी के बेटे हैं। पुलिस आयुक्त ने कहा कि गलत काम करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा।

You cannot copy content of this page