Breaking Varanasi उत्तर प्रदेश ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

16 मार्च से 72 घंटे की सांकेतिक हड़ताल की तैयारियां : विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति 14 को निकालेंगे मशाल जुलूस

Varanasi : विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति ने 16 मार्च से 72 घंटे की सांकेतिक हड़ताल की तैयारियां तेज कर दी हैं। समिति के पदाधिकारी पूर्वांचल के सभी जिलों का दौरा कर हड़ताल सफल बनाने की अपील कर रहे हैं।

समिति वाराणसी के संयोजक शैलेन्द्र दुबे ने बताया कि बीत वर्ष तीन दिसंबर ऊर्जा मंत्री ए.के. शर्मा और मुख्यमंत्री के मुख्य सलाहकार अवनीश अवस्थी के साथ हुई वार्ता में हुए समझौते पर अमल नहीं किया गया। इसके विरोध में हड़ताल का निर्णय लिया गया है। मीडिया प्रभारी अंकुर पांडे ने बताया कि 14 मार्च के मशाल जुलूस निकाला जाएगा। इसकी लिखित सूचना पुलिस प्रशासन तथा प्रबंधन को दे दी गई है। 15 मार्च को सभी अभियंता, अवर अभियंता, नियमित एवं संविदा कर्मचारी कार्य बहिष्कार करेंगे। 16 मार्च की रात 10 बजे से अभियंता, अवर अभियंता, नियमित एवं संविदा कर्मचारी 72 घंटे की सांकेतिक हड़ताल पर चले जाएंगे। विद्युत मजदूर संगठन एवं विद्युत संविदा मजदूर संगठन 13 मार्च सुबह 11 बजे मुख्य अभियंता कार्यालय पर 72 घंटे का कार्य बहिष्कार करेंगे। संगठन के पूर्वांचल अध्यक्ष इंद्रेश कुमार राय ने बताया कि 16 सूत्रीय मांगों को पावर कारपोरेशन मानने को तैयार नहीं है। इसलिए यह आंदोलन किया जा रहा है।

उधर हड़ताल की घोषणा पर शासन सर्तक हो गया है। सचिव डॉ. बीडी पॉल्सन ने पत्र में बताया कि ऊर्जा विभाग की ओर से छह महीने तक किसी भी तरह का आंदोलन करने पर रोक लगाई गई है। ऐसे में यह आंदोलन अवैधानिक है। सचिव ने सभी जिलाधिकारी, पुलिस आयुक्त, एसएसपी और एसपी को पत्र भेजकर उपकेंद्रों और कार्यालयों की सुरक्षा व्यवस्था बनाये रखने का निर्देश दिया है।

You cannot copy content of this page