Breaking Crime Varanasi ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

100 सवालों की क्वेरीलिस्ट तैयार : वाराणसी कमिश्नरेट पुलिस को मिली चार शातिर ठगों की तीन दिन की रिमांड, कई सफेदपोश हो सकते हैं बेनकाब

Varanasi : बैंगलूरू की रेशम फर्म के वाराणसी ऑफिस के मैनेजर से टैक्स में छूट के नाम पर दो करोड़ रुपये की ठगी करने वाले अभियुक्तों की पुलिस को कोर्ट ने गुरुवार को रिमांड दे दी। तीन दिन की इस रिमांड की संस्तुति पुलिस की दी गई दलीलों से न्यायलय ने संतुष्ट होकर दी है। शुक्रवार से तीन दिन की पुलिस रिमांड शुरू होगी, जिसमे शहर के साथ ही साथ अन्य जगहों के बड़े हवाला कारोबारियों के नाम सामने आने की आशंका है।

पुलिस आयुक्त ए. सतीश गणेश ने बताया कि थाना चेतगंज में दो करोड़ रुपये की ठगी प्रकरण के चारों आरोपियों को पुलिस कस्टडी रिमांड पर आज विवेचक ने कोर्ट में आरजी डाली थी। जिला न्यायालय में हो रही सुनवाई में पुलिस ने पुलिस कस्टडी रिमांड (PCR) लेने के लिए ठोस आधार और साक्ष्य प्रस्तुत किये थे, जिसपर बचाव पक्ष ने बहस की।

बताया कि कोर्ट ने दोनों पक्षों की दलील सुनने के बाद पुलिस की दी गई दलीलों से संतुष्ट होकर चारों अभियुक्तों की PCR स्वीकृत कर दी है। यह रिमांड शुक्रवार सुबह से शुरू होगी। पूरी प्रक्रिया की वीडियोग्राफी कराई जायेगी। जरुरत पड़ने पर सांटिफिक टेस्ट जैसे नार्को भी कराया जा सकता है।

सीपी ए. सतीश गणेश ने बताया कि सीनियर ज्वाइंट टीम इन चारों शातिर ठगों से अलग-अलग गहनता से पूछताछ करेगी। इनसे पूछने के लिए 100 प्रश्नों की लिस्ट पुलिस अधिकारियों ने तैयार की है। सीपी ने बताया कि इस रिमांड से कई हवाला कारोबारियों के चेहरे से नकाब हट सकता है।

You cannot copy content of this page