Breaking Crime Varanasi उत्तर प्रदेश ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

फर्जी दस्तावेज पर रजिस्ट्रेशन कराने वाले मल्टी स्पेशिलिटी हास्पिटल का पंजीयन रद : अस्पताल संचालक के खिलाफ FIR लिखवाने के निर्देश

Varanasi : फर्जी दस्तावेजों के सहारे पंजीयन कराकर नर्सिंगहोम संचालित करने का मामला प्रकाश में आया है। मामले को गंभीरता से लेते हुए मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कूटरचित दस्तावेजों के सहारे पंजीयन कराने वाले शिवपुर के मां चंद्रिका नगर कालोनी स्थित एसएल मल्टी स्पेशिलिटी हास्पिटल का रजिस्ट्रेशन रद करने के साथ ही हास्पिटल संचालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने का निर्देश दिया है। इसके साथ ही जिले में अवैध अस्पताल, नर्सिंगहोम चलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई तेज कर दी गयी है।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. संदीप चौधरी ने बताया कि मां चंद्रिका नगर कालोनी, बाबतपुर रोड-शिवपुर स्थित एसएल मल्टी स्पेशिलिटी हास्पिटल की ओर से पंजीयन के लिए ऑनलाइन पोर्टल पर संबंधित सभी दस्तावेजों के साथ ही अग्निशमन विभाग की एनओसी उपलब्ध कराये जाने के बाद गत 27 जुलाई को उक्त हास्पिटल का पंजीयन किया गया था।

इस बीच एक सितंबर को दूरभाष पर शिकायत प्राप्त हुआ कि उक्त हास्पिटल के पंजीयन में लगाये गये अग्निशमन विभाग की एनओसी में गड़बड़ी है। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि इस शिकायत पर फौरन कार्रवाई करते हुए मामले की जांच उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी व नोडल अधिकारी पंजियन डा. पीयूष राय को सौंपी गयी। डा. राय ने जांच के दौरान जब अग्निशमन विभाग से संपर्क करते हुए प्राप्त जानकारी के आधार पर उक्त फायर एनओसी के यूआईडी संख्या की आनलाइन पड़ताल की तो पता चला कि वह श्री साईं नर्सिंगहोम के नाम जारी की गयी है।

श्री साईं नर्सिंग होम के फायर एनओसी में कूटरचना कर एसएल मल्टी स्पेशिलिटी हास्पिटल के संचालक ने स्वास्थ्य विभाग को गुमराह करते हुए अपने हास्पिटल का पंजीयन कराने में इस्तेमाल किया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि यह बेहद ही गंभीर मामला है लिहाजा एसएल मल्टी स्पेशिलिटी हास्पिटल का लाइसेंस रद करने के साथ ही नर्सिंगहोम संचालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने का निर्देश दिया गया है।

You cannot copy content of this page