Breaking Crime Varanasi ऑन द स्पॉट पूर्वांचल 

ग्रामीण पुलिस ने खोजे 30 गुम हुए मोबाइल : सेलफोन पाकर खिल उठे लोगों के चेहरे, दिया धन्यवाद

Varanasi : पुलिस टीम लगातार आम जनता के सहयोग के लिए तत्पर है। इसी क्रम में वाराणसी ग्रामीण पुलिस की सर्विलांस टीम ने पुलिस अधीक्षक सूर्यकांत त्रिपाठी ने दिशा निर्देशन में विभिन्न थाना क्षेत्रों से गुम हुए 30 मोबाइल को ढूंढ निकला, जिसे शुक्रवार को एसपी ग्रामीण ने अपने हाथों से उनके मालिकों को सौंपा। मोबाइल पाकर सभी के चेहरे खिल उठे और उन्होंने वाराणसी ग्रामीण पुलिस को धन्यवाद दिया।

पुलिस अधीक्षक सूर्यकांत त्रिपाठी ने बताया कि पुलिस विभाग के विभिन्न कार्यालयों में लोग प्रार्थना पत्र देते हैं कि मोबाइल गुम हो गए हैं गायब हो गए हैं। सामन्यतः इसकी प्राथमिकता नहीं होती है लेकिन बाकी सारे कार्यों के साथ हम गुम मोबाइलों को भी तलाश करते हैं। ऐसे ही 30 मोबाइल सर्विलांस सेल ने ढूंढ निकाले हैं जिनकी कुल कीमत साढ़े 3 लाख है। मोबाइल देने के लिए आज सभी लोगों को बुलाया गया था पर सिर्फ 15 लोग आये जिन्हे मोबाइल दे दिया गया है।

उन्होंने कहा कि इस तरह से मिले मोबाइल को अपने पास रखने वाले अपराधी नहीं होता और उसके ऊपर कोई कार्रवाई भी नहीं की जाती है। उन्होंने बताया कि इन मोबाइलों को ढूंढने में लगे सर्विलांस टीम के जवानों को ढाई हजार रुपये के पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया है।

हरहुआ स्थित एसपी ग्रामीण के कार्यालय पर अपना मोबाइल लेने आये मोहनसराय के भद्रासी गांव के नीलव्रत चतुर्वेदी ने बताया कि 8 जुलाई को मेरा मोबाइल कल्लीपुर में गुम हुआ था जिसपर हमने शिकायत दर्ज कराई थी। इतने कम समय में पुलिस ने इसे ढूंढ निकला जो कि बहुत ही अच्छी बात है। उन्होंने कहा कि इस कार्य के लिए पुलिस धन्यवाद का पात्र है। वहीं एक चंद्रप्रकाश मौर्य ने बताया कि मिर्जामुराद में उनका मोबाइल छीना गया था, जिसके बाद पुलिस ने हमें सपोर्ट किया और आज हमें हमारा मोबाइल वापस मिल गया।

एक अन्य केआर वर्मा ने बताया कि एक शादी समारोह में 4 मई को मेरी मोबाइल गायब हो गयी थी, जिसके बाद हमने पुलिस से शिकायत की और पुलिस ने हमें हमारा मोबाइल ढूंढ कर वापस कर दिया जिसके लिए सभी का धन्यवाद।

मोबाइल को बरामद करने वाली सर्विलांस टीम में निरीक्षक राहुल शुक्ला, हेडकांस्टेबल संतोष पासवान, कांस्टेबल मंटू सिंह और कांस्टेबल मनीष सिंह के साथ ही साथ इंटिलिजेंस विंग के सब इंस्पेक्टर मनीष कुमार मिश्रा, सब इंस्पेक्टर आदित्य कुमार मिश्रा, हेडकांस्टेबल विजय शंकर राय, हेडकांस्टेबल अमित सिंह, कांस्टेबल चन्द्रसेन सिंह, कांस्टेबल कुलदीप सिंह, कांस्टेबल रामशंकर यादव, कांस्टेबल शंकर गौतम, कांस्टेबल धर्मेंद्र यादव और कांस्टेबल अविनाश शर्मा ने मुख्य भूमिका निभाई है।

You cannot copy content of this page